बिहार: राबड़ी देवी ने राघोपुर-महुआ में उपकरण-दवाओं के लिए दिए एक करोड़, किया ट्वीट

कोरोना वायरस के संदिग्धों और मरीजों के इलाज के लिए विभिन्न क्षेत्रों के दिग्गजों के साथ जनप्रतिनिधि भी मदद का हाथ आगे बढ़ा रहे हैं. इसी क्रम में बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने भी कोरोना पीड़ितों के लिए मदद का हाथ आगे बढाया है. 

बिहार: राबड़ी देवी ने राघोपुर-महुआ में उपकरण-दवाओं के लिए दिए एक करोड़, किया ट्वीट
राबड़ी देवी ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है. (फाइल फोटो)

पटना: कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण देश में लगातार बढ़ता जा रहा है. इस बीच, कोरोना वायरस के संदिग्धों और मरीजों के इलाज के लिए विभिन्न क्षेत्रों के दिग्गजों के साथ जनप्रतिनिधि भी मदद का हाथ आगे बढ़ा रहे हैं.

इसी क्रम में बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने भी कोरोना पीड़ितों के लिए मदद का हाथ आगे बढाया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री क्षेत्रीय विकास योजना के अंतर्गत एक करोड़ की धनराशि कोरोना के उपचार एवं रोकथाम हेतु राघोपुर और महुआ क्षेत्रों में प्रयोग होने वाले उपकरणों या दवाओं की ख़रीद के लिए अनुशंसित करती हूं.

आपको बता दें कि राबड़ी देवी पहले भी अपनी एक महीने की सैलरी कोरोना रोकथाम के लिए दे चुकी हैं. इसके लिए भी उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि 'कोरोना महामारी से लड़ने में पीड़ितों, चिकित्सकों-स्वास्थ्यकर्मियों के बचाव,सुरक्षा एवं जांच-उपचार हेतू मेडिकल उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए एक माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की घोषणा करती हूं. साथ ही मुश्किल समय में सभी से सहयोग की अपील करती हूं.'

बता दें कि इससे पहले आरजेडी सुप्रीमों लालू यादव (Lalu Yadav) ने भी ट्वीट कर कहा, 'इस कठिन वक्त में बिहारवासियों के कष्ट में साथ नहीं रहने का कष्ट है. पार्टी के सभी विधायकगण, नेता प्रतिपक्ष, पदाधिकारी पूरी सक्रियता,सकारात्मकता और क्रियाशीलता के साथ हरसंभव राज्य सरकार की मदद कर रहे हैं,'

उन्होंने आगे लिखा, 'पार्टी को 2,50000 लाख रुपए मुख्यमंत्री राहत कोष में अंशदान करने का निर्देश दिया है.' वहीं, इससे पहले तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने भी बिहारवासियों के नाम 'जन प्रार्थना पत्र' लिखा था. साथ ही अपनी एक महीने की सैलरी मुख्यमंत्री राहत कोष में देश का ऐलान किया है.