close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजस्वी यादव के लिए मुसीबत बन गया है रघुवंश प्रसाद का बयान, लोकतंत्र की दे रहे हैं दुहाई

तेजस्वी यादव ने कहा कि पार्टी में लोकतंत्र है. यही तो खुबसूरती है कि सभी अपनी बात रखते हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के मसले पर मैंने अपनी बात रख दी है, जिस पर समझौता संभव नहीं है.

तेजस्वी यादव के लिए मुसीबत बन गया है रघुवंश प्रसाद का बयान, लोकतंत्र की दे रहे हैं दुहाई
तेजस्वी यादव ने दिया पार्टी में लोकतंत्र का हवाला. (फाइल फोटो)

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) का बयान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejasshwi Yadav) के लिए मुसीबत बन गया है. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को लेकर रघुवंश प्रसाद अपने स्टैंड पर कायम हैं. वहीं, तेजस्वी यादव ने भी नीतीश कुमार को लेकर अपने स्टैंड में बदलाव की बात से इनकार कर दिया है. वहीं, अपना पार्टी के वरिष्ठ नेता के बायन पर तेजस्वी ने कहा कि वह पार्टी के सीनियर लीडर हैं. मेरे अभिभावक जैसे हैं. उन्होंने जो कुछ कहा होगा पार्टी के भले के लिए कहा होगा.

इसका अलावा तेजस्वी यादव ने कहा कि पार्टी में लोकतंत्र है. यही तो खुबसूरती है कि सभी अपनी बात रखते हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के मसले पर मैंने अपनी बात रख दी है, जिस पर समझौता संभव नहीं है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि मुझे जो कहना था, स्पष्ट तरीके से मैंने अपनी बात रख दी है. साथ ही उन्होंने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह ने जो कहा है, कुछ सोच समझकर ही कहा होगा. हमारी और उनकी कोशिश पार्टी को मजबूत करना ही है.

वहीं, एईएस (चमकी बुखार) घटना के साढे तीन महीने बाद मुजफ्फरपुर जाने के मसले पर तेजस्वी यादव सत्तारूढ़ पार्टी के निशाने पर आ गए हैं. जेडीयू और बीजेपी ने सवाल खड़ा किया है. वहीं, तेजस्वी ने कहा कि मुजफ्फरपुर एईएस मसले पर सबसे पहले उन्होंने ही पार्टी की एक कमेटी गठित की थी, जो सबसे पहले मुजफ्फरपुर गई थी. ये सभी जानते हैं कि उस वक्त मेरा एंकल टूटा हुआ था, जिसको लेकर मेरा ट्रीटमेंट चल रहा था.