close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना पहुंचे राजनाथ सिंह ने कहा- 'धारा 370 संविधान में नासूर था, इसे हटाकर सपना सच हुआ'

पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में पार्टी के कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं. इस कार्यक्रम का आयोजन बिहार बीजेपी की तरफ से किया गया है और इसका नाम "जन-जागरण सभा" रखा गया है.

पटना पहुंचे राजनाथ सिंह ने कहा- 'धारा 370 संविधान में नासूर था, इसे हटाकर सपना सच हुआ'
राजनाथ सिंह पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में पार्टी के कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं.(फोटो साभार: ANI)

पटना: केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पटना के दौरे पर हैं. वो पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में पार्टी के कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं. इस कार्यक्रम का आयोजन बिहार बीजेपी की तरफ से किया गया है और इसका नाम "जन-जागरण सभा" रखा गया है.

इस कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के अलावा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सांसद डॉ संजय जायसवाल, उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे सहित अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद हैं.

इस दौरान राजनाथ सिंह ने कहा, 'धारा 370 संविधान में नासूर की तरह था जो आए दिन देश के दिल और स्वर्ग कश्मीर को लहूलुहान कर रहा था. साथ ही उन्होंने कहा कि सभी सपने देखते हैं. लोग कहते हैं कि हम सपने देखते हैं लेकिन वो सच नहीं होता. लेकिन हमारे पीएम ने ये कर दिखाया. उन्होंने ये साबित कर दिया कि हम खुले आंखों से सपने देखते हैं इसलिए हमारे सपने सच होते हैं.'

इस दौरान राजनाथ सिंह ने कहा, 'धारा 370 संविधान में नासूर की तरह था जो आए दिन देश के दिल और स्वर्ग कश्मीर को लहूलुहान कर रहा था. साथ ही उन्होंने कहा कि सभी सपने देखते हैं. लोग कहते हैं कि हम सपने देखते हैं लेकिन वो सच नहीं होता है. लेकिन हमारे पीएम ने ये कर दिखाया. उन्होंने ये साबित कर दिया कि हम खुले आंखों से सपने देखते हैं इसलिए हमारे सपने सच होते हैं.'

इस दौरान केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कहा है कि अगर बंटवारा नहीं होता तो पाकिस्तान नहीं होता और पाकिस्तान नहीं होता तो 370 नहीं होता है. 370 देश के माथे पर लगा कलंक का टीका मिटा दिया गया. उन्होंने कहा कि जिन्होंने इसका विरोध किया है उसे कभी माफ नहीं किया जाएगा. जम्मू कश्मीर के पंचायतों को भी वही अधिकार मिलेगा जो देश के दूसरे पंचायत को हैं. अब राष्ट्र ध्वज का अपमान जम्मू कश्मीर में अपराध माना जाएगा.

 

वहीं, रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि सरदार पटेल की सोच सही थी और नेहरू जी की सोच गलत थी इसे स्वीकार करना पड़ेगा. सरदार पटेल ने 600 देशी रियासत को हैंडल किया कोई समस्या नहीं हुई, नेहरू जी ने एक कश्मीर को हैंडल किया जिसे सुधारने के लिए मोदी जी को आगे आना पड़ा.

पाकिस्तान से पंजाब आए रिफ्यूजी देश के प्रधानमंत्री बन गए लेकिन जो कश्मीर में आए उन्हें अधिकार नहीं मिला. अब देश में एक कानून चलेगा,सभी जगह कानून बराबर होगा देश के 166 कानून जम्मू कश्मीर में लागू होंगे.

वहीं, सुशील कुमार मोदी ने इस दौरान कहा है कि यदि मोबाइल और नेट सेवा कश्मीर में बंद किया गया है तो ये देश हित में कुछ दिनों के लिए किया गया है. 70-75 वर्षो में जो नहीं हो आया उसे मोदी सरकार ने एक झटके में कर दिखाया.