close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अलवर कांड में सियासत तेज, पासवान बोले- मायावती ने किस हैसियत से मांगा PM से इस्तीफा

राजस्थान के अलवर में हुए दलित महिला के साथ गैंगरेप मामले में सियासत तेज हो गई है. अब रामविलास पासवान ने मायावती पर हमला बोला है.

अलवर कांड में सियासत तेज, पासवान बोले- मायावती ने किस हैसियत से मांगा PM से इस्तीफा
रामविलास पासवान ने मायावती पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः राजस्थान के अलवर में हुए दलित महिला से सामूहिक दुष्कर्म की घटना पर राजनीति तेज हो गई है. अलवर कांड में मायावती और पीएम मोदी के बीच सीधी टकरार शुरू हो गई है. पीएम मोदी ने अलवर कांड को लेकर कहा कि मायावती को अगर बेटियों की चिंता है तो वह राजस्थान में सरकार को समर्थन क्यों कर रही है. वहीं, मायावती ने पुराने दलित मामलों पर पीएम मोदी से इस्तीफा मांग दिया.

इस मामले में अब एलजेपी प्रमुख रामविलास पासवान ने भी मायावती पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि मायावती किस हैसियत से पीएम मोदी से इस्तीफा मांग रही हैं. राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है और वह उनकी सहयोगी हैं. तो उन्हें वहां हो रहे अपराधों पर कार्रवाई करवानी चाहिए.

मायावती राजस्थान में कांग्रेस को समर्थन कर रही है और उनकी सरकार है तो उन्हें अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. लेकिन वह पीएम मोदी से इस्तीफा मांग रही हैं.

उन्होंने कहा कि मायावती प्रधानमंत्री पर निजी हमला कर रही है जो बेहद निंदनीय है. उन्हें राजस्थान सरकार से समर्थन लेना चाहिए और इस्तीफा मांगनी चाहिए तो वह पीएम से ही इस्तीफा मांग रही है.

दरअसल, पीएम मोदी ने कुशीनगर में राजस्थान के अलवर कांड पर मायावती पर निशाना साधते हुए कहा था कि उनके सहयोग से राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है इसलिए उन्हें समर्थन वापस ले लेना चाहिए. 

जवाब में मायावती ने कहा कि दलित महिला से दुष्कर्म मामले में पीएम घृणित राजनीति कर रहे हैं. साथ ही मायावती ने गुजरात के ऊना दलित कांड से लेकर रोहित वेमुला कांड समेत दलितों पर हो रहे अत्याचार के मुद्दे पर घेरते हुए पीएम मोदी से उनके इस्तीफे की मांग कर डाली.

आपको बता दें कि राजस्थान के अलवर में रेप की शर्मनाक वारदात को अंजाम दिया गया था. जहां कलाखोरा गांव के पास दो बाइको पर सवार पांच युवकों ने दोनों को रोक कर न सिर्फ उनसे मारपीट की बल्कि युवती से सामूहिक दुष्कर्म किया.