close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धर्म विशेष के खिलाफ पोस्ट लिखने वाली छात्रा को सशर्त जमानत, 5 कुरान बांटने का आदेश

बीते रविवार को दोनों पक्षों के बीच आपसी समझौता कराया गया था. कोर्ट ने माना है कि ऋचा भारती पढ़ाई करने वाली छात्रा है, जो किसी धर्म या राजनीतिक भावना से प्रेरित नहीं है. 

धर्म विशेष के खिलाफ पोस्ट लिखने वाली छात्रा को सशर्त जमानत, 5 कुरान बांटने का आदेश
रांची के जिला अदालत ने दी है सशर्त जमानत. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची : फेसबुक पोस्ट के जरिए धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने की आरोपी ऋचा को रांची के जिला अदालत ने धार्मिक काम करने की शर्त पर जमानत दी है. कोर्ट ने ऋचा भारती को कुरान की पांच प्रतिलिपि बांटने के शर्त पर जमानत दी है. छात्रा को पहले पिठोरिया के अंजुमन इस्लामिया के समक्ष एक प्रतिलिपि देनी होगी. बाकी  चार रांची के किसी भी पुस्तकालय में 15 दिनों के अंदर देनी होगी.

दरअसल, फेसबुक पर इस्लाम धर्म के प्रति आपत्तिजनक पोस्ट करने के मामले में पिठोरिया थाना ने ऋचा की गिरफतारी की थी. इसके बाद से ही उसकी रिहाई के लिए विरोध प्रदर्शन किए जा रहे थे. इस मामले में दोनों पक्षों के द्वारा मामला दर्ज कराया गया था.

बीते रविवार को दोनों पक्षों के बीच आपसी समझौता कराया गया था. कोर्ट ने माना है कि ऋचा भारती पढ़ाई करने वाली छात्रा है, जो किसी धर्म या राजनीतिक भावना से प्रेरित नहीं है. इसके बाद कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद सशर्त जामानत दे दी.

ज्ञात हो कि फेसबुक पर एक धर्म विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट से दो समुदाय के बीच दूरी बढ़ी थी. कोर्ट के द्वारा दी गई सशर्त जमानत, शायद फिर से दोनों पक्षों को एक करने में कारगर साबित होगी.