चुनाव से पहले चमका रांची का बाजार, बिक रहा- कमल वाला कुर्ता से लेकर JMM का मफलर

 विभिन्न पार्टियों को रिझाने के लिए दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात और अन्य जगह से आए दुकानदार ने सभी दलों के नेताओं और चुनाव चिन्ह वाली सामग्री रखी है.

चुनाव से पहले चमका रांची का बाजार, बिक रहा- कमल वाला कुर्ता से लेकर JMM का मफलर
दुकानों पर मिल रहे इस तरह के चुनाव में प्रचार के सामग्री.

सौरभ शुक्ला, रांची: कमल फूल वाला कुर्ता तो, बाबूलाल मरांडी की गंजी, झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) का मफलर ,कांग्रेसी कुर्ता तो बाकी कई अन्य दलों के झंडे और बिल्ले. इसके अलावा चुनावी निशान वाले कलम, डायरी और बैंड भी चुनावी बाजार में उपलब्ध है.

दरअसल राजधानी के विभिन्न इलाकों में खुली इन दुकानों में प्रचार के लिए तरह-तरह की चीजें लाई गई हैं. विभिन्न पार्टियों को रिझाने के लिए दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात और अन्य जगह से आए दुकानदार ने सभी दलों के नेताओं और चुनाव चिन्ह वाली सामग्री रखी है.

इन दुकानों पर प्रचार के लिए सामग्री खरीदने हैं और आर्डर देने के लिए विभिन्न दलों के नेता पहुंच रहे हैं. दुकानों पर 5 रुपए से लेकर 800 रुपए तक के प्रचार सामग्री उपलब्ध है. जाहिर है झारखंड में राजनीतिक सरगर्मी तेज है.

वहीं, नामांकन के बाद अब बारी प्रचार-प्रसार की है. ऐसे में रांची में विभिन्न राजनीतिक दलों के चुनाव चिन्ह वाले झंडे, मफलर, टोपी और अन्य सामग्री से दुकान सज गए हैं.

यहां देखें किस सामान का क्या दाम है-

  • विभिन्न राजनीतिक दलों का झंडा चार रुपए से लेकर 25 रुपए प्रति पीस
  • प्रिंटेड टीशर्ट-50 से 100 रुपए
  • मफलर-4 रुपए से 12 रुपए 
  • बैच-3 रुपए प्रति पीस
  • कैप:-5 रुपए से 25 रुपए प्रति पीस
  • डायरी-15 से 20 रुपए प्रति पीस
  • चाभी रिंग-5 रुपए से 8 रुपए प्रति पीस
  • पेपर लड़ी- 600 रुपए हजार
  • पेन-4 रुपए पीस
  • कलाई बैंड-4 से 12 रूपए
  • मोबाइल स्टिकर-10 रुपए पैकेट

आपको बता दें कि राज्य की 81 विधानसभा सीटों पर पांच चरणों में विधानसभा चुनाव होने है. पहले चरण के लिए वोटिंग 30 नवंबर को होगी जबकि आखिरी फेज के लिए मतदान 20 दिसंबर को होगा. वहीं, सभी सीटों पर मतगणना पर 23 दिसंबर को होगी.