झारखंड: कोरोना संकट के बीच PCV टीकाकरण की शुरुआत, बन्ना गुप्ता बोले-मील का पत्थर साबित होगा टीका

कोरोना वायरस के खतरे के बीच एक बार फिर तीसरी लहर आने का अंदेश है. लेकिन नौनिहाल को इस खतरे से बचाया जा सके इसके लिए तैयारियां भी अपने युद्ध स्तर पर चल रही हैं. 

झारखंड: कोरोना संकट के बीच PCV टीकाकरण की शुरुआत, बन्ना गुप्ता बोले-मील का पत्थर साबित होगा टीका
बन्ना गुप्ता बोले-मील का पत्थर साबित होगा टीका

Ranchi: कोरोना वायरस के खतरे के बीच एक बार फिर तीसरी लहर आने का अंदेश है. लेकिन नौनिहाल को इस खतरे से बचाया जा सके इसके लिए तैयारियां भी अपने युद्ध स्तर पर चल रही हैं. कोरोनावायरस के खतरे के अलावा निमोनिया से भी कई बच्चे ग्रसित हैं और जिस का एक टीका महंगी दर पर आता है. जिसके को लेकर राजधानी रांची से पीसीवी टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई. 

टीकाकरण अभियान का शुभारंभ करने के बाद स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि कोरोनावायरस के तीसरे लहर के भी आने की आशंका है, जो बच्चों को अपनी चपेट में ले सकता है. राज्य में आज से पीसीवी टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई है. यह बच्चों को विभिन्न वायरस से लड़ने के लिए भी मजबूती प्रदान करेगा और यह टीका 1 मील का पत्थर साबित होगा. 

इस अभियान की शुरुआत में सांकेतिक तौर पर कुछ बच्चों को टीका दिया गया. टीकाकरण अभियान के दौरान माताएं बहुत खुश नजर आई. इस दौरान उन्होंने कहा कि ये टीका काफी ज्यादा महंगा है. ऐसे में सरकार की ये पहल सराहनीय है. 

ये भी पढ़ें- CBSE 12th Result: 31 जुलाई तक आएंगे बोर्ड के नतीजें, 12वीं के अंकों को लिए मूल्यांकन का फॉर्मूला तय

बता दें कि झारखंड ये पहल शुरू करना वाला देश का छठा राज्य बन गया है. इसके अलावा इस टीके की वजह से बच्चों में निमोनिया से लड़ने से ताकत आ जाएगी.