झारखंड में नक्सली बंद का मिलाजुला असर, प्रदेश में हाई अलर्ट जारी

झारखंड में नक्सलियों ने एक दिन का बंद का आह्वान किया है. नक्सली बंद का असर गुरुवार (29 मार्च) को मिलाजुला दिखा है. हालांकि नक्सली बंद को देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. 

झारखंड में नक्सली बंद का मिलाजुला असर, प्रदेश में हाई अलर्ट जारी
सिमडेगा में नक्सली बंद के कारण बस स्टैंड पर सन्नाटा दिखा.

रांचीः झारखंड में नक्सलियों ने एक दिन का बंद का आह्वान किया है. नक्सली बंद का असर गुरुवार (29 मार्च) को मिलाजुला दिखा है. हालांकि नक्सली बंद को देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. जगह-जगह पुलिस की चौकसी बढ़ायी गई वहीं घाटी में भी सुरक्षा को बढ़ाया गया. कुछ स्थानों पर नक्सली बंद का असर दिखा और लंबी दूरियों की गाड़ियों को बंद रखा गया. वहीं कई शहरों में जीवन सामान्य रहा और लोग हर दिन के तरह ही घर से बाहर कामकाज में व्यस्त दिखे. झारखंड के गिरिडीह में बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों पर विशेष सुरक्षा चौकसी की व्यवस्था की गई. वहीं पुलिस ने यात्रियों की सुरक्षा के लिए घाटी में भी चौकसी बढ़ा दी है. 

नक्सली बंद के डर से गढ़वा में लंबी दूरी की गाड़ियां नहीं चल रही हैं. मेराल में बॉक्साइट की डंपिंग भी नहीं हो रही है. वहीं सिमडेगा बस स्टैंड पर सन्नाटा देखा गया. यहां सभी गाड़ियों का परिचालन बंद रहा और स्टैंड में गाड़ियां नहीं दिखी.

राजधानी एक्स्प्रेस में आईटीबीपी जवानों का ड्रामा

झारखंड में रेलवे ट्रैक की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है. शहर के साथ-साथ रेलवे की सुरक्षा का भी पुख्ता इंतजाम किया गया है. इसके लिए जीआरपी और आरपीएफ के साथ बेहतर समन्वय रखने का निर्देश दिया गया है. वहीं सभी थाना पुलिस, पेट्रोलिंग पुलिस और हाइवे पेट्रोलिंग को पूरी तरह हाई अलर्ट रखा गया है. बताया जा रहा है कि हटिया बंडामुंडा रेलखंड पर परिचालन सामान्य रूप से जारी है.

'नीतीश कुमार खत्म हो गए हैं'- इलाज के दिल्ली रवाना होने से पहले बोले लालू यादव

हालांकि हजारीबाग शहर में भी बंद का असर मिला जुला है. लेकिन बुधवार रात को नक्सलियों की बौखलाहट दिखी. नक्सलियों ने हजारीबाग के चुरचू में दो ग्रामीणों की हत्या कर दी. दो ग्रामीणों को घर से निकालकर जंगल ले जाया गया और मौत के घाट उतार दिया गया. इस घटना से गांव के लोग डरे हुए हैं. वहीं सीआरपीएफ इस मामले में छापेमारी अभियान चला रही है.