close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विजयदशमी: पटना के गांधी मैदान में धू-धू कर जला रावण, मंच से नदारद रहे BJP के नेता

रावण दहन कार्यक्रम की खास बात यह रही है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से कोई भी नेता गांधी मैदान नहीं पहुंचे. उनके लिए लगाई गई कुर्सियां खाली रह गई. 

विजयदशमी: पटना के गांधी मैदान में धू-धू कर जला रावण, मंच से नदारद रहे BJP के नेता
गांधी मैदान में रावण दहन कार्यक्रम का आयोजन.

पटना: बिहार की राजधानी पटना सहित पूरे राज्य में विजयदशमी की धूम है. पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान सहित सभी जिला मुख्यालय और गांवों में रावण दहन का कार्यक्रम का आयोजन किया गया. रावण दहन कार्यक्रम के दौरान गांधी मैदान में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा सहित कई नेता मौजूद रहे. 

रावण दहन कार्यक्रम की खास बात यह रही है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से कोई भी नेता गांधी मैदान नहीं पहुंचे. उनके लिए लगाई गई कुर्सियां खाली रह गई. ज्ञात हो कि पिछले साल नीतीश कुमार के साथ सुशील मोदी भी कार्यक्रम में शिरकत किए थे.

गंधी मैदान ( Gandhi Maidan ) में 63 वर्षों से रावण वध का कार्यक्रम किया जा रहा है, जिसे देखने के लिए हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ती है. गया जिला के कलाकारों ने रावण, मेघनाथ और कुंभकरण का पुतला बनया है. रावण के पुतले की लंबाई 75 फीट, कुंभकरण की 70 फीट और मेघनाथ की 65 फीट की लंबाई का बनाया गया है, जो कि लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रहा.

वहीं, दशहरा कमेटी संयोजक कमल नोपानी ने बताया कि प्राकृतिक आपदा को लेकर सादगी है, लेकिन परंपरा को देखते हुए रावण, मेघनाथ और कुंभकरण के पुतले तैयार किए गए. पुतला दहन से पहले झांकी भी निकाली गई. बारिश के कारण कारीगरों को पुतला बनाने में समस्याएं भी आई. इसे बनाने में एक महीना 6 दिन लग गए.