close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विजयादशमी: पटना के गांधी मैदान में होगा रावण दहन, नीतीश कुमार करेंगे शिरकत

रावण वध कार्यक्रम को देखते हुए जिला प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट पर है. सुरक्षा के दृश्टिकोण से आम लोगों के प्रवेश के लिए गेट नंबर पांच, सात और दस को दो बजे दिन में खोल दिया जाएगा. 

विजयादशमी: पटना के गांधी मैदान में होगा रावण दहन, नीतीश कुमार करेंगे शिरकत
पटना में होगा रावण दहन कार्यक्रम. (फाइल फोटो)

पटना: विजयदशमी ( Vijaya Dashami ) के मौके पर बिहार की राजधानी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में रावण दहन का कार्यक्रम होगा. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित कई मंत्री और नेता उपस्थित रहेंगे. संभावित भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. गंधी मैदान ( Gandhi Maidan ) में 63 वर्षों से रावण वध का कार्यक्रम किया जा रहा है, जिसे देखने के लिए हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ती है. गया जिला के कलाकारों ने रावण, मेघनाथ और कुंभकरण का पुतला बनया है. रावण के पुतले की लंबाई 75 फीट, कुंभकरण की 70 फीट और मेघनाथ की 65 फीट की लंबाई का बनाया गया है, जो कि लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रहेगा.

वहीं, दशहरा कमेटी संयोजक कमल नोपानी ने बताया कि प्राकृतिक आपदा को लेकर सादगी है, लेकिन परंपरा को देखते हुए रावण, मेघनाथ और कुंभकरण के पुतले तैयार किए गए हैं. रावण वध का कार्यक्रम शाम 4:30 बजे से शुरू होकर 5:30 बजे तक चलेगा. पुतला दहन से पहले झआंकी भी निकाली जाएगी. बारिश के कारण कारीगरों को पुतला बनाने में समस्याएं भी आई. इसे बनाने में एक महीना 6 दिन लग गए.

रावण वध कार्यक्रम को देखते हुए जिला प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट पर है. सुरक्षा के दृश्टिकोण से आम लोगों के प्रवेश के लिए गेट नंबर पांच, सात और दस को दो बजे दिन में खोल दिया जाएगा. कार्यक्रम खत्म होने के बाद गांधी मैदान के सभी गेट खोल दिए जाएंगे ताकि लोग आराम से निकल सकेंगे. गांधी मैदान में 12 मजिस्ट्रेट समेत 500 से अधिक पुलिस बल तैनात किए गए हैं. सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जा रही है.

वहीं, किसी प्रकार के हादसे से निपटने के लिए पीएमसीएच को अलर्ट पर रखा गया है. एक वायरलेस सेट के साथ एक ऑपरेटर की तैनाती की गई है ताकि पल-पल की जानकारी दे सके. इमरजेंसी में 10 से अधिक बेड का भी इंतजाम किया गया है साथ ही आधे दर्जन एंबुलेंस की व्यवस्था कर इसकी पूरी मॉनिटरिंग जिलाधिकारी कुमार रवि और पटना एसएसपी गरिमा मल्लिक कर रही हैं.