BJP ने राष्ट्रवाद के मुद्दे पर विपक्ष को घेरा, कहा-राम मंदिर-370 से कुछ लोगों को दिक्कत

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने साफ कहा कि देश में दो निशान दो प्रधान कभी नहीं हो सकते हैं, सिर्फ हर जगह तिरंगा होगा.  

BJP ने राष्ट्रवाद के मुद्दे पर विपक्ष को घेरा, कहा-राम मंदिर-370 से कुछ लोगों को दिक्कत
रविशंकर प्रसाद ने राष्ट्रवाद के मुद्दे पर विपक्षी दलों को घेरा.

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव में एक बार फिर राष्ट्रवाद का मुद्दा बनाने की कोशिश होती दिख रही है. बीजेपी बिहार चुनाव में राष्ट्रवाद के मुद्दे पर विपक्ष को घेरने की कोशिश कर रही है. पार्टी के तमाम शीर्ष नेता इसका जिक्र अपनी हर चुनावी जनसभा में करते दिख रहे हैं. 

इस बीच, बिहार के औरंगाबाद में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को फिर से लागू करने की वकालत करने वाले दलों पर हमला किया. रविशंकर प्रसाद ने साफ कहा कि देश में दो निशान दो प्रधान कभी नहीं हो सकते हैं, सिर्फ हर जगह तिरंगा होगा.

उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को राममंदिर बनने से भी समस्या है और अनुच्छेद 370 के हटने से भी. केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'भव्य राम मंदिर बनाया जा रहा है. कुछ लोगों को इससे समस्या है. उन्हें अनुच्छेद 370 (निरस्तीकरण) से भी समस्या है. मैं स्पष्ट रूप से कहना चाहता हूं, 'दो निशान दो प्रधान' नहीं होगा. हर जगह तिरंगा होगा.'

रविशंकर प्रसाद ने आगे कहा, 'हमारे पीएम ने क्या कहा? यह बिहार रेजिमेंट के बहादुर जवान थे जिन्होंने गलवान में चीन को करारा जवाब दिया था. उरी में भी बिहार के जवान थे. बिहार बहादुरों की भूमि है.' दरअसल, धारा 370 को लेकर जम्मू-कश्मीर के दल पीडीपी और एनसी संसद द्वारा कानून पास कर अनुच्छेद-370 हटाए जाने से नाराज हैं. 

इसको लेकर बीते दिनों नजरबंदी से बाहर निकलने के बाद पूर्व सीएम और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती ने एक देश विरोधी बयान भी दिया. साथ ही, एनसी चीफ फारूक अब्दुल्ला और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम भी अनुच्छेद 370 की खिलाफत कर चुके हैं.

वहीं, बीजेपी का यह भी कहना है कि राम मंदिर मुद्दे को कांग्रेस द्वारा लंबे समय तक लटकाया गया और अब जब भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है तो विपक्षी दलों को इससे दिक्कत है. साथ ही, चीन के मुद्दे पर जिस तरह राहुल गांधी समेत तमाम विपक्ष केंद्र सरकार पर हमलावर है, उसको लेकर बीजेपी नेताओं द्वारा पलटवार किया जा रहा है.