बिहार : वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व क्षेत्र से गैंडे का शव बरामद, मौत के कारणों का नहीं चला पता

बिहार के पश्चिमी चंपारण स्थित वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व क्षेत्र में मंगलवार को एक गैंडा की मौत हो गई. वन विभाग के अधिकारियों ने गैंडे के शव को बरामद कर लिया है.

बिहार : वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व क्षेत्र से गैंडे का शव बरामद, मौत के कारणों का नहीं चला पता
वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व क्षेत्र में मंगलवार को एक गैंडा की मौत हो गई.

बेतिया: बिहार के पश्चिमी चंपारण स्थित वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व क्षेत्र में मंगलवार को एक गैंडा की मौत हो गई. वन विभाग के अधिकारियों ने गैंडे के शव को बरामद कर लिया है, हालांकि अब तक इसके मौत के कारणों का पता नहीं चल सका है. 

वन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि वाल्मीकिनगर वन क्षेत्र के सीमा पर चमैनिया इलाके के एक ईख के खेत में एक गैंडा की मौत की खबर मिलने के बाद विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पुहंच गए हैं. गैंडा के मौत के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है.

अधिकारियों के मुताबिक, विशाल आकार वाला गैंडा मूल रूप से नेपाल के चितवन जंगल में पाया जाता है. बताया जाता है कि यह गैंडा 2017 में यहां आया था और इसी क्षेत्र में रह रहा था. वाल्मीकि टाइगर रिजर्व क्षेत्र इन दिनों गैंडों का पसंदीदा क्षेत्र माना जा रहा है.

वाल्मीकि टाइगर रिजर्व प्रमंडल 2 के वन प्रमंडल पदाधिकारी (डीएफओ) गौरव ओझा ने आईएएनएस को बताया, "वाल्मीकि नगर क्षेत्र के सीमा पर गैंडे का शव बरामद किया गया है. इसके शिकारियों द्वारा निशाना बनाए जाने के कोई सबूत नहीं मिले हैं. शव के पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के कारणों का सही पता चल सकेगा."