पटना: CAA पर नहीं बनी लेफ्ट-महागठबंधन की बात, अलग-अलग दिन बंद रहेगा बिहार

सीपीआई के राज्य सचिव सत्यनरायण सिंह और माले के राज्य सचिव कुणाल ने कहा कि 19 दिसंबर को लेफ्ट की तरफ से बिहार बंद का आयोजन किया जाएगा. जबकि 21 दिसंबर को राष्ट्रीय जनता दल बिहार बंद करेगी.

पटना: CAA पर नहीं बनी लेफ्ट-महागठबंधन की बात, अलग-अलग दिन बंद रहेगा बिहार
महागठबंधन-लेफ्ट की एकसाथ बिहार बंद करने पर बात नहीं बनी.

पटना: विपक्ष नागरिकता संशोधन एक्ट (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ बिहार बंद करने का ऐलान कर चुका है. इसको लेकर महागठबंधन (Mahagathbandhan) और लेफ्ट की सोमवार को राजधानी पटना में बैठक हुई. इस बैठक में इस बात पर चर्चा होनी थी कि सभी दल अलग-अलग के बजाए एक ही दिन मिलकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करें. साथ ही बिहार बंद कार्यक्रम में शामिल हों.

जानकारी के मुताबिक, महागठबंधन और लेफ्ट की नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ बंद को लेकर हुई बैठक में एक साथ बिहार बंद करने की बात पर सहमति नहीं पाई है. सीपीआई (CPI) के राज्य सचिव सत्यनरायण सिंह और माले के राज्य सचिव कुणाल ने कहा कि 19 दिसंबर को लेफ्ट की तरफ से बिहार बंद का आयोजन किया जाएगा.

वहीं, 21 दिसंबर को राष्ट्रीय जनता दल (RJD) बिहार बंद करेगी. इधर, आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने कहा कि महागठबंधन के सभी लोग साथ में मिलकर कई मुद्दों पर की है. 

इस पूरे मामले पर विकासशील इंसान पार्टी (VIP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी ने कहा लेफ्ट 19 तारीख को और महागठबंधन आरजेडी के नेतृत्व में 21 तारीख को बिहार बंद करेगा. लेफ्ट और महागठबंधन एक-दूसरे का समर्थन करेंगे.