झारखंड चुनाव: आरजेडी ने जारी किया घोषणा पत्र, कई बड़े मुद्दों पर की बात

प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह समेत पार्टी के कई नेता और पदाधिकारी इस मौके पर मौजूद रहे. आरजेडी ने चुनावी घोषणा पत्र में कहा है कि जल जंगल और जमीन का संरक्षण की नीति बनाई जाएगी और सर्व धर्म समभाव की रक्षा की जाएगी.

झारखंड चुनाव: आरजेडी ने जारी किया घोषणा पत्र, कई बड़े मुद्दों पर की बात
झारखंड विधानसभा चुनाव को लेकर आरजेडी ने चुनावी घोषणा पत्र जारी किया.

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव को लेकर आरजेडी ने चुनावी घोषणा पत्र जारी किया. प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह समेत पार्टी के कई नेता और पदाधिकारी इस मौके पर मौजूद रहे. आरजेडी ने चुनावी घोषणा पत्र में कहा है कि जल जंगल और जमीन का संरक्षण की नीति बनाई जाएगी और सर्व धर्म समभाव की रक्षा की जाएगी.

साथ ही घोषणा पत्र में ये भी कहा गया है कि पर्यटन को रोजगार से जोड़ा जाएगा. अल्पसंख्यको के विकास के लिए जस्टिस रंगनाथ मिश्र एवं सच्चर कमिटी की सिफारिशों को क्रियान्वित किया जाएगा. सीएनटी ,एसपीटी की मूल भावना को परिवर्तित किये बिना अपनी मर्ज़ी से ही ज़मीन अधिग्रहण के लिए देंगे.

इस घोषणा पत्र के जरिए आरजेडी ने महिलाओं ओर गरीबों को भी ध्यान में रखा है. घोषणा पत्र में कहा गया है कि गरीबी उन्मूलन पर सबसे अधिक फोकस रहेगा. महिला सशक्तिकरण पर ध्यान दिया जाएगा. बंजर जमीन को कृषि योग्य बनाकर किसानों को दी जाएगी. बीपीएल में सर्वे कराकर नए लोगों को जोड़ा जाएगा.

आरजेडी ने पुनर्वास से पहले विस्थापन न करने की भी वकालत की है. ग्रामीण स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं को सढृढ किए जाने की भी बात की गई है. प्रति वर्ष 50 हजार नए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाने, बालू घाट पंचायतों के अधीन करने, आंगनबाड़ी सेविकाओं को स्थाई किए जाने की भी बात की दई है. 

आरजेडी ने अपना घोषणापत्र जरूर जारी कर दिया है लेकिन देखना दिलचस्प होगा कि आखिर इसपर विरोधी दल क्या प्रतिक्रिया देते हैं.