Gopalganj शराब कांड पर कोर्ट के फैसले को RJD ने बताया गलत, कहा-शराबबंदी के नाम पर किया जा रहा जुल्म

Gopalganj Liquor Case News: आरजेडी के विधायक कुमार सर्वजीत कोर्ट के फैसले से संतुष्ट नहीं हैं. सर्वजीत ने फैसले को गलत करार देते हुए कहा है कि शराब हत्याकांड के लिए असली दोषी वो लोग हैं जिनके कंधों पर शराब पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने की जिम्मेवारी थी.  

Gopalganj शराब कांड पर कोर्ट के फैसले को RJD ने बताया गलत, कहा-शराबबंदी के नाम पर किया जा रहा जुल्म
खजुरबानी वाइन केस में कोर्ट के फैसला पर आरजेडी ने सवाल उठाया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Patna: बहुचर्चित गोपालगंज के खजुरबानी वाइन केस पर कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है. जहरीली शराब के शिकार हुए 19 लोगों की मौत के लिए जिम्मेवार 9 लोगों को फांसी की सजा और चार महिलाओं को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी है. माना जा रहा है कि कोर्ट के फैसले से अवैध शराब कराबारियों में एक बड़ा मैसेज जाएगा. लेकिन हैरानी देखिए कोर्ट के फैसले के बाद सियासत शुरु हो गयी है.

आरजेडी के विधायक कुमार सर्वजीत कोर्ट के फैसले से संतुष्ट नहीं हैं. सर्वजीत ने फैसले को गलत करार देते हुए कहा है कि शराब हत्याकांड के लिए असली दोषी वो लोग हैं जिनके कंधों पर शराब पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने की जिम्मेवारी थी. उन्होंने कहा कि असली दोषी सरकार है. विधायक ने कहा कि शराबबंदी के नाम पर गरीब लोगों के साथ जुल्म कहीं से भी उचित नहीं है. सरकार ने शराबबंदी के नाम पर लाखों गरीब को जेल में बंद कर रखा है.

ये भी पढ़ें-Gopalganj: जहरीली शराब मामले में 5 साल बाद आया फैसला, 13 में से 9 अभियुक्तों को हुई फांसी

 

वहीं, सरकार के तरफ से मद्य निषेध विभाग मंत्री सुनील कुमार ने गोपालगंज कोर्ट की ओर से दिये गये फैसले का स्वागत किया है. मंत्री सुनील कुमार ने कहा है कि कोर्ट का फैसला बडा संदेश देता है. अवैध शराब की बिक्री करनेवाले जो भी हैं उनपर पुलिस और मद्य निषेध विभाग कड़ी कार्रवाई करेगा. गोपालगंज कांड में दोषियों को सजा दिलवाने के लिए सरकार की तरफ से काफी तैयारी और कोशिश की गयी थी. 

इधर, मंत्री सम्राट चौधरी ने कोर्ट के फैसले पर विपक्षी विधायक के सवाल पर हैरानी जतायी है. कुमार सर्वजीत को आड़े हाथ लेते हुए सम्राट चौधरी ने कहा कि कोर्ट ने जो भी फैसला दिया है वो काफी जांच पड़ताल के बाद दिया है. मंत्री ने कहा कि कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाना कहीं से भी उचित नहीं है. अब उम्मीद  यही है कि राजनीति करने वाले लोग कोर्ट के इस फैसले का सम्मान करेंगे, ताकि जो सियासी जुबानी जंग जो चल रही है वो भी खत्म हो सकेगा. 

ये भी पढ़ें-बिगड़ती कानून-व्यवस्था पर BJP ने उठाए सवाल, कहा-बिहार में लागू हो योगी मॉडल