आरजेडी नेता का बड़ा बयान, कहा- 2019 में कांग्रेस का सबकुछ दांव पर

आरजेडी नेता के बयान पर बिहार कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने पलटवार किया है.

आरजेडी नेता का बड़ा बयान, कहा- 2019 में कांग्रेस का सबकुछ दांव पर
बिहार में आरजेडी और कांग्रेस का गठबंधन है. (फाइल फोटो- PTI)

पटना : बिहार में महागठबंधन और एनडीए, दोनों के घटक दलों के बीच शीट शेयरिंग को लेकर जुबानी जंग जारी है. चाहे बीजेपी-जोडीयू हो या फिर आरजेडी-कांग्रेस, सभी दलों के नेता एक-दूसरे के खिलाफ लगातार बयान दे रहे हैं. आरजेडी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कांग्रेस को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि लोकसभा में दो तिहाई से ज्यादी सीटें लाने वाली कांग्रेस पार्टी महज 44 पर सिमट गई. 2019 में कांग्रेस पार्टी का सबकुछ दांव पर है. आरजेडी नेता ने कांग्रेस को पुराना सहयोगी भी करार दिया. चर्चा है कि आरजेडी नेता का यह बयान नीतीश कुमार के प्रति कांग्रेस के नरम रवैये के बीच आया है. 

पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला था. उन्होंने कहा था कि कुछ लोग उन्हें वापस लाने में लगे हैं, लेकिन उनके लिए महागबंधन में कोई जगह नहीं है. शिवानंद तिवारी ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को गलती नहीं करनी चाहिए. शीट शेयरिंग पर उन्होंने कहा कि कौन कितनी सीटों पर लड़ेगा, यह दोनों पार्टी के बड़े नेताओं की बैठक में तय होगा.  

शिवानंद तिवारी के बयान पर कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि बिचौलिया टाइप के लोग इस तरह की टिप्पणी कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने इस तरह के बयान से बचने की सलाह दी. कौकब कादरी ने कहा कि 2019 में कांग्रेस नहीं, बीजेपी का सबकुछ दांव पर लगा है. 2014 में बीजेपी का पूरे देश ने समर्थन दिया था. साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी सभी को जगह देती है. छोटे-छोटे दल आकर कांग्रेस में मिलते हैं.

वहीं, आरजेडी नेता के बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता और एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्र ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की नहीं, बल्कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का सबकुछ दांव पर है. उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस की विचारधारा के खिलाफ हम मजबूती से लड़ेंगे. इसके लिए हम समान विचारधारा वाले लोगों को साथ लाएंगे. आरजेडी के साथ हमारा भरोसे का गठबंधन है. हमें एक-दूसरे का सम्मान करना चाहिए.

शीट शेयरिंग के मामले पर कांग्रेस नेता ने कहा कि यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आरजेडी नेता लालू यादव, राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव बैठकर इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे.