बेगूसराय: NRC-NPR प्रस्ताव पर बोली आरजेडी- जनदबाव में नीतीश कुमार को झुकना पड़ा

उन्होंने कहा कि जो केंद्र सरकार एक इंच पीछे नहीं हटने की बात कह रही थी, उन्हें मीलों दूर आज भेज दिया गया है. बिहार विधानसभा में जन दबाव में नीतीश कुमार को झुकना पड़ा और सर्वसम्मति से विधानसभा में एनसीआर और एनपीआर को लेकर प्रस्ताव पास किया गया. 

बेगूसराय: NRC-NPR प्रस्ताव पर बोली आरजेडी- जनदबाव में नीतीश कुमार को झुकना पड़ा
बेगूसराय के एक कार्यक्रम में आरजेडी प्रवक्ता मनोज झा ने कहा- एनआरसी-एनपीआर पर जनदबाव में झुकना पड़ा नीतीश सरकार को. (फाइल फोटो)

दरभंगा: बिहार के बेगूसराय में आरजेडी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सह राज्यसभा सांसद मनोज झा ने एक कार्यक्रम के दौरान कई अहम मुद्दों पर न सिर्फ अपनी पार्टी का पक्ष रखा बल्कि सदन में उसके रोल की तारीफ भी की. दरअसल, मनोज झा ने दिल्ली हिंसा और बिहार विधानसभा में एनआरसी (NRC) और एनपीआर (NPR) को लेकर प्रस्ताव पास हुआ है इसे जन दबाव की जीत और बिहार की आवाम की जीत बताया. 

मनोज झा ने कहा कि बीजेपी की मौजूदगी, उसके अहंकार, उसकी हठधर्मिता को हमारे जिद के आगे पीछे हटना पड़ा. इस तरह बिहार पहला ऐसा राज्य बना, जहां एनसीआर और एनपीआर पर प्रस्ताव पास किया गया है.

उन्होंने कहा कि जो केंद्र सरकार एक इंच पीछे नहीं हटने की बात कह रही थी, उन्हें मीलों दूर आज भेज दिया गया है. बिहार विधानसभा में जन दबाव में नीतीश कुमार को झुकना पड़ा और सर्वसम्मति से विधानसभा में एनसीआर और एनपीआर को लेकर प्रस्ताव पास किया गया. 

मनोज झा ने दिल्ली हिंसा पर कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए. दिल्ली में अनुराग ठाकुर, वारिस पठान और कपिल मिश्रा के जहरीले बयानों के कारण हिंसा भड़की है. शांतिपूर्ण चल रहा आंदोलन अचानक हिंसा में कैसे तब्दील हो गया, इसकी जांच की जानी चाहिेए. 1984 के बाद दिल्ली ने ऐसा दिन कभी नहीं देखा था.

उन्होंने कहा कि कोई भी आंदोलन बापू के रास्ते पर चलकर ही जीता जा सकता है. आंदोलन में हिंसा का कोई स्थान नहीं है.