close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चिराग पासवान ने दी तेजस्वी यादव को नसीहत, Congress बोली- अपनी गिरेबान में झांके LJP नेता

भले ही उपचुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर महागठबंधन में रार ठन गई हो, लेकिन चिराग पासवान के नसीहत कांग्रेस खुलकर तेजस्वी यादव के समर्थन में आ गई है. 

चिराग पासवान ने दी तेजस्वी यादव को नसीहत, Congress बोली- अपनी गिरेबान में झांके LJP नेता
चिराग पासवान पर कांग्रेस का हमला. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार में उपचुनाव को लेकर महागठबंधन में जिस तरह से राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने उम्मीदवारों का ऐलान किया है उससे अंतरकलह सामने निकलकर आ गई है. इसी बहाने लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सांसद चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने तेजस्वी यादव को बचपना कम करने की नसीहत दे दी है. उनका कहना है कि जिस तरह हम बचपन में हठयोग कर लेते थे, उसी तरह का बचपना तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) में अभी भी है. वह अहंकार में आकर निर्णय ले रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमें बड़ों का सम्मान करना चाहिए. पार्टी में वरिष्ठ नेताओं की राय जरूर सुननी चाहिए. 

भले ही उपचुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर महागठबंधन में रार ठन गई हो, लेकिन चिराग पासवान के नसीहत कांग्रेस खुलकर तेजस्वी यादव के समर्थन में आ गई है. पार्टी के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने चिराग पासवान पर निशाना साधते हुए कहा कि पिता रामविलास पासवान राष्ट्रीय अध्यक्ष और बेटा प्रदेश अध्यक्ष, उनकी पार्टी में कई कार्यकर्ता हैं, जिन्हें प्रदेश अध्यक्ष बनाना चाहिए. 

कांग्रेस नेता ने कहा कि रामविलास पासवान ने मजबूरी में चिराग पासवान के हठयोग के कारण अपने ही बेटे को प्रदेश अध्यक्ष बनाया है. खुद स्वयं राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं तो दूसरे को क्या नसीहत देंगे. पहले अपनी गिरबान में झांके. 

वहीं, पार्टी के नेता को कोई नसीहत दे तो आरजेडी भला कैसे चुप बैठती. विधायक राहुल तिवारी ने कहा चिराग पासवान का हमारी पार्टी में क्या काम है? नसीहत देने वाले को अपनी पार्टी में देखनी चाहिए. हमारे नेता के बारे में उनको बोलने का कोई हक नहीं है. 

चिराग पासवान के द्वारा तेजस्वी यादव को नसीहत दिए जाने का जेडीयू ने समर्थन किया है. पार्टी प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि ऐसी सलाह को तेजस्वी यादव को माननी चाहिए. एक ही उम्र के दोनों राजनेता हैं. तेजस्वी यादव को चिराग पासवान ने कोई बात कही है तो उसका साफ-साफ अर्थ है कि आपको अपने उम्र के हिसाब से जो पद मिला है उसके अनुरूप आपका आचरण नहीं है. कम अनुभव और अहंकार की वजह से आरजेडी और जनता को बार-बार आपनी बेवकूफी का एहसास कराते रहे हैं.

बीजेपी ने दोनों को परिवारिक दायित्व संभालने वाला बता दिया है. बीजेपी के प्रवक्ता नवल यादव ने कहा है कि दोनों समकक्ष नेता हैं. चिराग पासवान और तेजस्वी यादव परिवारिक दायित्व को संभालने वाले लोग हैं. एक-दूसरे को नसीहत दें तो ज्यादा बेहतर होगा.

चिराग पासवान और तेजस्वी यादव राजनीति की नई पीढ़ी के नेता हैं. पहले दोनों एक-दूसरे के खिलाफ कटाक्ष नहीं किया करते थे, लेकिन जिस तरह से बिहार की राजनीति करवट ले रही है उसी तरह से यह दोनों एक-दूसरे पर बयानबाजी करने में लगे हैं. अब देखना यह है कि चिराग पासवान के बयान का जवाब तेजस्वी कैसे देते हैं.