झारखंड की सियासत का बिहार में दिख रहा इफेक्ट, नीतीश पर साधा आरजेडी ने निशाना

 झारखंड चुनाव में जेडीयू सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है लेकिन चुनाव प्रचार से पार्टी के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दूरी बना ली है. नीतीश कुमार के झारखंड में प्रचार नहीं करने पर राष्ट्रीय जनता दल ने निशाना साधा है. 

झारखंड की सियासत का बिहार में दिख रहा इफेक्ट, नीतीश पर साधा आरजेडी ने निशाना
नीतीश कुमार के झारखंड में प्रचार नहीं करने पर राष्ट्रीय जनता दल ने निशाना साधा है.

रांची: झारखंड की सियासत का साइड इफेक्ट बिहार में भी नजर आ रहा है. बिहार की सत्ताधारी पार्टी जेडीयू और आरजेडी के बीच झारखंड चुनाव को लेकर नए सिरे से बयानबाजी शुरू हो गई है. 

आपको बता दें कि झारखंड चुनाव में जेडीयू सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है लेकिन चुनाव प्रचार से पार्टी के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दूरी बना ली है. नीतीश कुमार के झारखंड में प्रचार नहीं करने पर राष्ट्रीय जनता दल ने निशाना साधा है. 

आरजेडी के नेता विजय प्रकाश ने कहा कि जेडीयू झारखंड में दिखावा कर रही है. आरजेडी नेता ने आरोप लगाया कि अंदर से बीजेपी-जेडीयू मिली हुई है और चुनाव में जेडीयू की जमानत सभी सीटों पर जब्त हो जाएगी. विजय प्रकाश के मुताबिक नीतीश कुमार इसलिए झारखंड में चुनाव प्रचार करने नहीं गए क्योंकि वहां जेडीयू चुनाव लड़कर बीजेपी की मदद ही कर रही है.

झारखंड चुनाव को लेकर जेडीयू ने आरजेडी के आरोपों का जवाब दिया है. जेडीयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने कहा कि आरजेडी के लोग क्या कहते हैं इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता, उन्हें उम्मीद है कि बेहतर नतीजे आएंगे. जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि नीतीश कुमार झारखंड जा चुके हैं और वहां हमें कई सीटों से बेहतर रेस्पॉन्स मिल रहा है. निखिल मंडल ने कहा कि नीतीश कुमार ही एकमात्र मुख्यमंत्री हैं जो लोगों की सुनते हैं और योजनाओं को धरातल पर उतारते हैं. 

दरअसल झारखंड चुनाव में जनता दल यूनाइटेड सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है. जबकि राष्ट्रीय जनता दल महागठबंधन में जेएमएम और कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है. झारखंड में आरजेडी केवल 7 सीटों पर चुनावी मैदान में है जिसके लिए बिहार के नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने प्रचार की कमान संभाल ली है.
Rajesh Kuma, News Desk