close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कब्जा छुड़ाने गई पुलिस की टीम पर महादलितों ने किया हमला, RJD ने सरकार पर साधा निशाना

आरजेडी ने हमला किया तो पलटवार करते हुए बिहार सरकार के मंत्री विनोद नारायण झा ने कहा कि बेगूसराय पर आरजेडी के लोगों का बोलने का कोई अधिकार नहीं है.

कब्जा छुड़ाने गई पुलिस की टीम पर महादलितों ने किया हमला, RJD ने सरकार पर साधा निशाना
बेगूसराय मामले में राजनीति तेज हो गई है.

बेगूसराय : महादलित परिवारों के द्वारा किसानों की जमीन पर अवैध कब्जा मामले में राजनीति तेज हो गई है. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने सरकार पर निशाना साधा है. पार्टी के प्रवक्ता भाई बिरेंद्र ने कहा कि यह दबंगों की सरकार है. गरीबों पर कहर ठाया जा रहा है. बेगूसराय में भी यही देखने को मिला है. साथ ही उन्होंने कहा कि गरीब अब जग चुके हैं. उन्हें कोई ठग नहीं सकता है. किसी को किसी से डर नहीं है. आरजेडी प्रवक्ता ने कहा कि दबंग कहलाने वाले, जिनकी सरकार मदद करती, उनकी अब चलने वाली नहीं है.

आरजेडी ने हमला किया तो पलटवार करते हुए बिहार सरकार के मंत्री विनोद नारायण झा ने कहा कि बेगूसराय पर आरजेडी के लोगों का बोलने का कोई अधिकार नहीं है. लोगों को याद है आरजेडी के 15 साल के कार्यकाल में किस तरह दक्षिण बिहार में जातियों के नाम पर लोग मारे जाते थे और गरीबों की हत्याएं हुई है. बेगूसराय घटना की पूरी जांच करने की जरूरत है. शंका है कि आरजेडी वाले माहौल खराब कर चुनाव में जातीय तनाव पैदा करना चाहते हैं. मंत्री ने कहा इस मामले में राजद के लोग तो नहीं हैं ऐसे लोग हैं जो राज सरकार को बदनाम करना चाह रहे हैं यहां कानून का राज है कोई भी कानून हाथ में लेगा तो सरकार कठोर कार्रवाई करेगी

वहीं, जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) एमएलसी अशोक चौधरी ने कहा कि बेगूसराय में जिन्होंने कार्रवाई नहीं की है उन्होंने संविधान विरोधी काम किया है. जमीन का कब्जा दिलाने की जिम्मेदारी वहां के कलेक्टर और राजस्व पदाधिकारी की है. कब्जा दिलवाने में कोई दिक्कत हुई है तो ऐसे लोगों पर कार्रवाई करनी चाहिए. साथ ही अशोक चौधरी ने कहा कि आरजेडी से कोई सर्टिफिकेट नहीं चाहिए. सरकार गरीबों की हितैषी है कि नहीं, यह आरजेडी नहीं जनता तय करेगी.

ज्ञात हो कि वार्ता करने पंहुचे पुलिसकर्मी और सीओ पर गुरुवार को हमला कर दिया गया. इस हमले में आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए. दरअसल, नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के बनद्वार पंचायत के वार्ड दो में सैकड़ों महादलित परिवारों ने किसानों की 100 एकड़ जमीन पर कब्जा कर रखा है. पुलिस अधिकारी जब महादलित परिवारों से बातचीत करने पहुंचे तो उनपर हमला कर दिया गया.