close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजस्वी यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने को लेकर RJD में दो फाड़, बीजेपी ने ली चुटकी

जस्वी यादव को आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग पर पार्टी में दरार. एमएलसी सबोध राय का कहना है कि हमारे अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव हैं और आगे भी रहेंगे.

तेजस्वी यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने को लेकर RJD में दो फाड़, बीजेपी ने ली चुटकी
एमएलसी सबोध राय का कहना है कि हमारे अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव हैं और आगे भी रहेंगे.(फाइल फोटो)

पटना: लोकसभा चुनाव के बाद आरजेडी नेता तेजस्वी यादव लंबे समय तक अज्ञातवास पर रहे. वहीं, आरजेडी के सीनियर विधायक भाई वीरेन्द्र सहित कई ऐसे नेता है जो तेजस्वी यादव को आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में देखना चाहते हैं. 

तो वहीं तेजस्वी यादव को आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग पर पार्टी में दरार. एमएलसी सबोध राय का कहना है कि हमारे अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव हैं और आगे भी रहेंगे. सुबोध राय का कहना है कि उन्हीं के नेतृत्व में 2020 का विधानसभा चुनाव लड़ा जाएगा. वहीं, तेजस्वी यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग उठानेवाले भाई वीरेंद्र अभी भी अपनी बात पर कायम हैं. 

 

इस मुद्दे पर बीजेपी का कहना है कि लालू प्रसाद यूपी की तरह मुलायम की भूमिका में आनेवाले हैं और तेजस्वी यादव अखिलेश यादव की भूमिका में आनेवाले हैं. वहीं, जेडीयू ने आरजेडी को परिवार की पार्टी बताया.

गौरतलब है कि लालू परिवार मे इन दिनों सत्ता के शीर्ष नेतृत्व को लेकर संघर्ष चरम पर है. चर्चा इस बात की है कि तेजस्वी पार्टी में तेजप्रताप और मीसा भारती के हस्तक्षेप से परेशान हैं. तेजस्वी दोनों को पार्टी की मुख्यधारा से अलग करना चाहते हैं. साथ ही तेजस्वी अब पार्टी को अपने मुताबिक चलाना चाहते हैं.

इसलिए उन्होनें राजनीति में सक्रियता को लेकर अपनी शर्तों से परिवार के अभिभावक को अवगत करा दिया है. यही वजह है कि परिवार में अपने फैसले को लेकर दवाब बनाने के लिए तेजस्वी ने पार्टी के सदस्यता अभियान की तीन मीटिंगों का बहिष्कार तक कर दिया.