बिहार: महागठबधंन बचाने में जुटी RJD, समस्तीपुर में कांग्रेस के खिलाफ नहीं उतारेगी उम्मीदवार

टिकट बंटवारे को लेकर आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह नाराज हैं. उन्होंने कहा कि बिना बातचीत के कैंडिडेट उतारना गलत है.

बिहार: महागठबधंन बचाने में जुटी RJD, समस्तीपुर में कांग्रेस के खिलाफ नहीं उतारेगी उम्मीदवार
समस्तीपुर सीट पर उम्मीदवार नहीं उतारेगी कांग्रेस.

पटना: बिहार में पांच विधानसभा सीट और एक लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव से पहले महागठबंधन में सीट शेयरिंग (Seat Sharing) को लेकर रार ठन गई है. इस बीच महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) गठबंधन बचाने की कवायद में जुट गई है. खबर है कि किशनगंज विधानसभा और समस्तीपुर लोकसभा सीट पर उम्मीदवार नहीं उतारेगी. ज्ञात हो कि आरजेडी ने सिर्फ नाथनगर और बेलहर सीट पर अपने उम्मीदवार की घोषणा की है.

इस बीच आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानन्द तिवारी (Shivanand Tiwari) ने कहा है कि कांग्रेस की सीट पर हम उम्मीदवार कैसे दे सकते हैं. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि कांग्रेस मजबूत हो, लेकिन राज्यों में अपने सहयोगियों को कमजोर कर कांग्रेस लक्ष्य हासिल नहीं कर सकती है. कांग्रेस आलाकमान ऐसा नहीं कर सकता है.

वहीं, टिकट बंटवारे को लेकर आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह नाराज हैं. उन्होंने कहा कि बिना बातचीत के कैंडिडेट उतारना गलत है. हमारा चार कैंडिडेट अगर चुनाव जीत गया को क्या होगा? सरकार बन जाएगी क्या? राजनीति में बातचीत कभी खत्म नहीं होती है. उन्होंने कहा कि मैं सभी को मनाने के लिए उनके घर जाऊंगा. इस चुनाव का मकसद यह होना चाहिए कि लोगों के बीच महागठबंधन की एकजुटता का संदेश जाए.

रघुवंश प्रसाद ने छोटी पार्टियों को आरजेडी में मर्ज करने की सलाह दी है. उन्होंने जीतन राम मांझी और मुकेश सहनी से कहा कि अपनी पार्टी को आरजेडी में मर्ज कर बड़ा मंच तैयार करें.