NDA में आर-पार के मूड में उपेंद्र कुशवाहा, 'हमें 3 से ज्‍यादा सीटें चाहिए, कितने पर मानूंगा तय नहीं'

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है की हमारा गठबंधन बीजेपी से और लोजपा से है और हमेशा रहेगा, लेकिन जेडीयू से हमारा अभी तक किसी तरह का गठबंधन नहीं हुआ है.

NDA में आर-पार के मूड में उपेंद्र कुशवाहा, 'हमें 3 से ज्‍यादा सीटें चाहिए, कितने पर मानूंगा तय नहीं'
उपेंद्र कुशवाहा ने तीन से अधिक सीट बीजेपी से मांगी है.

पटनाः आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने शुक्रवार को पटना में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि हमें लोकसभा चुनाव में तीन सीट से अधिक मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि हमने तय नहीं किया है कि हम कितने सीट पर मानेंगे लेकिन हमें तीन से अधिक सीट चाहिए. हमारी ताकत पिछले चुनाव से ज्यादा हुई है इसलिए इसका आकलन कर हमारी पार्टी को सीट देनी चाहिए.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है की हमारा गठबंधन बीजेपी से और लोजपा से है और हमेशा रहेगा, लेकिन जेडीयू से हमारा अभी तक किसी तरह का गठबंधन नहीं हुआ है. जेडीयू प्रमुख नीतीश कुमार ने मेरे लिए जो शब्द उपयोग किया है उससे मैं आहत हुआ हूं. इसलिए हमने मांग की है कि वह अपने शब्द वापस लें. वहीं, उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी इसके लिए पहल करनी चाहिए.

उपेंद्र कुशवाहा ने सीटों के बंटवारे पर पूछे गए सवालों पर कहा कि हम खुलकर सीटों को लेकर अपनी बात कह चुके हैं. एक बार फिर मैं कहता हूं कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जो हमारी ताकत थी उसके अनुसार अभी हमारी ताकत ज्यादा हो गई है. इसलिए इसका आकलन कर हमारी पार्टी को सीट मिलनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि तीन सीट हमें पिछले चुनाव में मिला था. लेकिन इस बार की ताकत के अनुसार मैं बीजेपी से तीन से अधिक सीटों की मांग करता हूं. जब उनसे पूछा गया कि वह कितने सीट पर मानेंगे तो उन्होंने कहा कि मैं कितने सीट पर मानूंगा यह तय नहीं किया गया है. लेकिन हमें तीन से अधिक सीट चाहिए.

उन्होंने कहा कि हमारी जो भी ताकत बढ़ी है उसका आकलन कर लिया जाए और उस हिसाब से सीट हमें दें. हालांकि इसकी संख्या कुछ भी हो सकती है लेकिन यह तीन से कम नहीं होगी.

वहीं, उन्होंने नीतीश कुमार के मंत्री मंडल विस्तार को लेकर भी कहा कि हमें बिहार में मंत्री मंडल के विस्तार में हिस्सा नहीं मांगा है. मैं जानना चाहता हूं कि जब हमें लाभ मिलना था तब उन्होंने हमारी हिस्सेदारी की बात क्यों नहीं की. लाभ के समय नहीं कहा गया तो अब सीटों पर त्याग करने के लिए क्यों कहा जा रहा है.

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जब से एनडीए में शामिल हुए हैं तब से हमारी भागीदारी की बात नहीं की है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को मैं बड़ा भाई मानता हूं लेकिन उन्होंने मेरे लिए गलत शब्द का उपयोग किया है. इसिलए मुझे ठेस पहुंची है. उन्होंने कहा कि अब बीजेपी को इसके लिए पहल करनी चाहिए. तब तक जेडीयू से मेरी कोई गठबंधन नहीं होगी.

वहीं, पूछा गया कि बीजेपी आपको तवज्जो नहीं दे रही है तो उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली से कहा था कि दो-तीन दिन में सीट शेयरिंग की घोषणा कर दी जाएगी. लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया है.