गोपालगंज हत्याकांड मामले में तेजस्वी की सक्रियता पर RLSP ने उठाया सवाल, कहा कुछ ऐसा..

गोपालगंज (Gopalganj) में हुए तिहरे हत्याकांड (Triple murder) के बाद जेडीयू के विधायक पप्पू पांडे के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार बात कर रहे हैं. 

गोपालगंज हत्याकांड मामले में तेजस्वी की सक्रियता पर RLSP ने उठाया सवाल, कहा कुछ ऐसा..
आरजेडी के सहयोगी दल ही तेजस्वी यादव के एक्शन से संतुष्ट नहीं हैं. (फाइल फोटो)

पटना: गोपालगंज (Gopalganj) में हुए तिहरे हत्याकांड (Triple murder) के बाद जेडीयू के विधायक पप्पू पांडे के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार बात कर रहे हैं. लेकिन अब मौजूदा स्थिति को देखकर ऐसा लग रहा है कि आरजेडी के सहयोगी दल ही तेजस्वी यादव के एक्शन से संतुष्ट नहीं हैं. 

महागठबंधन की सहयोगी पार्टी आरएलएसपी ने तेजस्वी के समर्थन करने की बात जरूर कही है लेकिन पार्टी की तरह से कुछ सवाल भी खड़े किए हैं. आरएलएसपी के प्रधान महासचिव माधव आनंद ने कहा है कि गोपालगंज में जिस समुदाय के लोगों की हत्या हुई है. उसे लेकर तेजस्वी यादव की चिंता जायज है.

उन्होंने साथ ही यहां तक कहा है कि ‘तेजस्वी ने जितनी तत्परता गोपालगंज मर्डर मामले में दिखाई, उसी तरह गया के सेंदुआरी गांव में हुई हत्या की चिंता भी उन्हें करनी चाहिए थी. वहां भूमिहार समाज के शख्श की हत्या हुई. नेता प्रतिपक्ष को वहां बोलना चाहिए था. आरएलएसपी जात और मजहब से उठकर काम करती है और ऐसी घटनाओं की निंदा करती है.  ’ साथ ही माधव आनंद ने ये भी कहा है कि हमने कई बार सीएम से कानून व्यवस्था ठीक करने की गुहार लगाई है.

आपको बता दें कि गोपालगंज हत्याकांड मामले में तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार को घेरा है.  तेजस्वी यादव विधायक पप्पू पांडेय की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं.  उन्होंने कहा है कि जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडेय की ओर से नरसंहार हुआ है. जेडीयू विधायक ने रिश्तेदारों के साथ मिलकर हत्या की है. पुलिस मुख्यमंत्री के इशारे पर लीपापोती कर रही है. आश्चर्य की बात है, जिस पर एफआईआर दर्ज है, उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई.

साथ ही आपको बता दें कि गोपालगंज में हत्याओं के दौर चल पड़ा है. पिछले 20 दिनों में 5 हत्याएं हो चुकी हैं. इसमें जेपी यादव के तीन परिजनों की हत्या शामिल हैं, जबकि विधायक पप्पू पांडेय के दो करीबियों की हत्या की गई है.