close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कटिहार के बाद अब मुजफ्फरपुर से आई शर्मसार करने वाली तस्वीर, कीड़ा वाले चावल से पक रहा खाना

यह हैरान करने वाली तस्वीर जिला के औराई प्रखंड के बभनगावा राहत शिविर की है, जहां बाढ़ पीड़ितों के लिये खाना बनाया जा रहा है. 

कटिहार के बाद अब मुजफ्फरपुर से आई शर्मसार करने वाली तस्वीर, कीड़ा वाले चावल से पक रहा खाना
बाढ़ पीड़ितों के लिए कीड़े लगे चावल से पक रहा है खाना.

अरुण प्रकाश श्रीवास्तव/मुजफ्फरपुर : बिहार के कटिहार में बाढ़ पीड़ितों के चूहा खाने की घटना के बाद अब मुजफ्फरपुर से एक ऐसी तस्वीर आ रही है जो मानवता को शर्मसार करने वाली है. बाढ़ पीड़ितों के खाने के लिए कीड़ा युक्त खाना पकाया जा रहा है. इस काम में लगे जिम्मेदारी कैमरे में कैद तस्वीर को भी झुठलाते रहे. लेकिन मौके पर तैनात पुलिस के जवान ने पोल खोल दी.

भगवान न करे कि किसी को बाढ़ की विभीषिका झेलनी पड़े, क्योंकि मुज़फ्फफरपुर में बाढ़ पीड़ितों को जो खाना दिया जा रहा है उसे अगर कोई भी देख ले तो उसका खाना मुश्किल हो जाएगा.

कटिहार : बाढ़ से प्रभावित लोगों को नहीं मिल रहा खाना, चूहा खाने को हुए मजबूर

यह हैरान करने वाली तस्वीर जिला के औराई प्रखंड के बभनगावा राहत शिविर की है, जहां बाढ़ पीड़ितों के लिये खाना बनाया जा रहा है. खाना बनाने में जो चावल का इस्तेमाल हो रहा है उसमें कीड़े लगे हुए हैं. इतना ही नहीं जिम्मेदारी व्यक्ति ने इसे धोने तक की जहमत नहीं उठाई. 

कीड़ा युक्त भोजन बनाने की व्यवस्था पर पर्दा डालने की लगातार कोशिश हो रही है. इसे लाख झुठलाने की कोशिश हो रही है. लेकिन मौके पर तैनात पुलिसकर्मी ने भी इसकी पोल खोल दी. 

इस पूरे मामले को डीएम आलोक रंजन घोष ने गंभीरता से लिया है. डीएम ने बताया है कि कहीं कोई कमी है तो सूचने दी जाए. जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. डीएम के निर्दश पर अब सभी कॉम्यूनिटी किचन में पदस्थापित सरकारी कर्मी या डॉक्टर भोजन को खुद खाएंगे और फिर बाढ़ पीड़ितों को दिया जाएगा.