close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केबीसी 11 में पहले करोड़पति बने बिहार के सनोज राज, बधाई देने वालों का लगा तांता

केबीसी में एक करोड़ रुपए के प्रश्न का जवाब देने वाले सनोज राज के घर पर उसके मां बाप को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है. 

केबीसी 11 में पहले करोड़पति बने बिहार के सनोज राज, बधाई देने वालों का लगा तांता
सनोज राज के घर पर उसके मां बाप को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है.

जहानाबाद: केबीसी 11 (KBC 11) में एक करोड़ रुपए के प्रश्न का उत्तर देकर इस सीजन का पहली बार करोड़पति बना जहानाबाद जिले के हुलासगंज प्रखंड क्षेत्र के ढ़ोंगरा गांव निवासी सनोज राज के घर पर जश्न का माहौल है. केबीसी में एक करोड़ रुपए के प्रश्न का जवाब देने वाले सनोज राज के घर पर उसके मां बाप को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है. 

एक किसान परिवार में जन्में और ग्रामीण परिवेश में पले बड़े सनोज राज द्वारा इस केबीसी में बड़ी रकम जीतने से परिजनों के साथ-साथ ग्रामीण भी काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. सनोज राज के पिता ने बताया कि बचपन से ही पढ़ने में मेधावी रहे सनोज राज की शिक्षा जहानाबाद के प्राइवेट स्कूल से हुई. जिसके बाद उन्होंने पश्चिम बंगाल के वर्धमान यूनिवर्सिटी से बीटेक करने के बाद टीसीएस मैं नौकरी की लेकिन यूपीएससी का लक्ष्य लेकर चलने वाले सनोज राज ने ढाई वर्षों के बाद ही जून 2018 में नौकरी छोड़ दी और यूपीएससी की तैयारी में जुट गए. 

 

इस बीच हर साल की तरह उन्होंने केबीसी के एंट्रेंस का जवाब देकर केबीसी में अपनी जगह सुरक्षित कर ली और तो और 15 प्रश्नों का उत्तर देते हुए एक करोड़ रुपये की भारी भरकम राशि जीत गए. हालांकि इस एक करोड़ की रकम के प्रश्न के बाद 7 करोड़ रुपए के 16वें प्रश्न का उत्तर देने में सनोज राज सफल हुए या नहीं यह ना तो चैनल की ओर से बताया गया है और ना हीं उनके परिजनों ने इस बात का खुलासा किया.

वहीं, अपने बेटे की कामयाबी पर खुशी मना रही उनकी मां ने कहा की बचपन से उसकी पढ़ाई लिखाई के लिए आर्थिक स्थिति को लेकर कई तरह की मशक्कत करनी पड़ी है. परंतु उसकी पढ़ाई जारी रही. उन्होंने कहा कि एक करोड़ रुपया जीत लेने की खुशी तो है लेकिन असली खुशी उसके यूपीएससी में चयन के बाद ही मिलेगी जो उसका लक्ष्य है.

तकरीबन सौ घरो के इस ढ़ोंगरा गांव में कई बड़े किसान और बड़े कारोबारी का भी घर है परंतु इस गांव की पहचान आज सनोज राज के नाम से होने लगी है जिसने अपनी मेहनत और प्रतिभा के बल पर एक.प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में बड़ी रकम जीत कर ना सिर्फ अपने गांव बल्कि ज़िला और राज्य का भी नाम ऊंचा किया है.