झारखंड: 'सेव द गर्ल चाइल्ड' पखवाड़ा का हुआ आयोजन, बेटियों की महत्ता की देगा जानकारी

यह रथ गांव-गांव घूमकर बेटियों की महत्ता और उनकी उपयोगिता का अलख जगाएगा. साथ ही बेटियों के लिए चल रहे कल्याणकारी योजना की जानकारी भी लोगों को देगा.

झारखंड: 'सेव द गर्ल चाइल्ड' पखवाड़ा का हुआ आयोजन, बेटियों की महत्ता की देगा जानकारी
जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया.

जामताड़ा: झारखंड के जामताड़ा में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission) के तहत 'सेव द गर्ल चाइल्ड' (Save the girl child) पखवाड़ा मनाया जा रहा है. यह 12 से 26 मार्च तक चलेगा. इस दौरान उपायुक्त जामताड़ा गणेश कुमार ने समाहरणालय परिसर में दो जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया.

इस मौके पर सिविल सर्जन आशा एक्का, उपाधीक्षक एसके मिश्रा, अपर समाहर्ता सुरेंद्र कुमार, एसडीओ सुधीर कुमार सहित स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारी उपस्थित रहे. बता दें कि यह रथ गांव-गांव घूमकर बेटियों की महत्ता और उनकी उपयोगिता का अलख जगाएगा. साथ ही बेटियों के लिए चल रहे कल्याणकारी योजना की जानकारी भी लोगों तक पहुंचाएगा.

वहीं, हेल्थ मोबाइल यूनिट को भी जागरूकता रथ बनाया गया है. उपायुक्त गणेश कुमार ने कहा कि बेटियां बेटे से आज कम नहीं हैं. उन्होंने कहा कि बेटियां हर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रही है. गणेश कुमार ने कहा कि लोगों में जागरूकता लाना होगा कि बेटियां बेटों से कम महत्व नहीं रखती है.

उन्होंने कहा कि सामाजिक कार्यक्रम, मेला, स्कूल, कॉलेज आदि यानी ऐसे स्थान हैं जहां पर लोग एकत्रित होते हैं, वैसे स्थानों में जागरूकता रथ से प्रचार-प्रसार करना है.