पटना: 72 घंटों के बाद भी गंगा से नहीं बरामद हुआ रोहित का शव, परिजनों ने किया हंगामा

 कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान करने के लिए रानीपुर इलाके का रहने वाले तीन दोस्त बजरंगी, गोलू और रोहित खाजेकलां घाट पर गंगा स्नान करने गए थे. जहां स्नान करने के दौरान तीनों डूबने लगे, जिसमे एक युवक को स्थानीय लोगो ने बचा लिया.

पटना: 72 घंटों के बाद भी गंगा से नहीं बरामद हुआ रोहित का शव, परिजनों ने किया हंगामा
गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम शव की तलाश में जुट गई है.

पटना: बिहार के पटना सिटी में 72 घंटा बीत जाने के बाद भी रोहित का शव गंगा से नहीं बरामद किया जा सका है. इससे नाराज परिजनों ने पटना सिटी के खाजेकला थाने में पहुंच कर हंगामा किया. साथ ही रोहित की शव की बरामदगी की मांग की.

वहीं, थाने पर हंगामा होता देख खाजेकलां थाना की पुलिस ने आनन-फानन में शव की बरामदगी के लिए गोताखोर और एसडीआरएफ को सूचना दी. जहां गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम शव की तलाश में जुट गई. 

LIVE TV Code :

गौरतलब है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान करने के लिए रानीपुर इलाके का रहने वाले तीन दोस्त बजरंगी, गोलू और रोहित खाजेकलां घाट पर गंगा स्नान करने गए थे. जहां स्नान करने के दौरान तीनों डूबने लगे, जिसमे एक युवक को स्थानीय लोगो ने बचा लिया. वहीं, दो युवक बजरंगी और रोहित की गंगा में डूबने से मौत हो गई.

पुलिस ने गोताखोर और एसडीआरएप की मदद से बजरंगी नामक युवक के शव को बरामद के लिया था पर रोहित का शव को गंगा की लहरों से नहीं निकाला गया था. जिसके बाद शव की तलाश में लापरवाही बरती जा रही थी. 
इसे लेकर परिजनों ने पुलिस पर शव खोजने में लापरवाही का आरोप लगा कर थाने में हंगामा किया. फिलहाल पुलिस ने गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम की मदद से शव की तलाश मे जुट गए हैं.