close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : BJP-JDU-LJP के बीच सीट शेयरिंग का ऐलान आज, तय हो चुका है फॉर्मूला

बीजेपी के विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पहले से तय संख्या के आधार पर लोजपा के खाते में चार लोकसभा और एक राज्यसभा की सीट गई थी.

बिहार : BJP-JDU-LJP के बीच सीट शेयरिंग का ऐलान आज, तय हो चुका है फॉर्मूला
बिहार में एनडीए के बीच सीट शेयरिंग का आज होगा ऐलान. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली/पटना : आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए बिहार में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के बीच सीट शेयरिंग को लेकर बातचीत पूरी हो चुकी है. आज (रविवार को) कभी भी तीनों दलों के सीनियर नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा करेंगे. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) का साथ छूटने के बाद लोजपा की सीटों में नए सिरे से बतचीत हुई.

बीजेपी के विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पहले से तय संख्या के आधार पर लोजपा के खाते में चार लोकसभा और एक राज्यसभा की सीट गई थी. रालोसपा के जाने के बाद पासवान ने उस दो सीटों पर भी दावा ठोक दिया था, जो कुशवाहा के लिए तय किए गए थे. ज्ञात हो कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार पहले ही इस बात की घोषणा कर चुके हैं कि दोनों ही पार्टियां बराबर की सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

बीजेपी के दोनी पड़ी सबसे ज्यादा कुर्बानी
सीट शेयरिंग के नए समीकरण के मुताबिक बीजेपी ने गठबंधन के घटक दलों के लिए सबसे ज्यादा कुर्बानी दी है. 2014 के लोकसभा चुनाव की बात करें तो बिहार में बीजेपी 30, लोजपा सात और रालोसपा तीन सीटों पर चुनाव लड़ी थी. इस चुनाव में जेडीयू ने बीजेपी से गठबंधन तोड़ लिया था. जेडीयू के साथ आने के बाद सबसे ज्यादा बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ रहा है.

नए फॉर्मूले के आधार पर बीजेपी और जेडीयू 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रही है वहीं, लोजपा के खाते में सात लोकसभा सीट गई है. इस बात की संभावना है कि पहले जो राज्यसभा की एक सीट पासवान को दी जा रही थी, वह अब नहीं मिले. आज होने वाले प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीटों की संख्या के साथ-साथ कौन किस सीट पर चुनाव लड़ेगा इसकी भी घोषणा हो कर दी जाएगी.

बिहार : BJP, JDU और LJP के बीच सीट बंटवारे का ऐलान आज संभव

महागठबंधन पर भारी पड़ सकता है तीनों दलों का गठजोड़
2014 में हुए लोकसभा चुनाव के परिणामों पर नजर डालें तो बीजेपी के खाते में 29.4 प्रतिशत और लोजपा के खाते में 6.4 प्रतिशत वोट पड़े थे. वहीं, जेडीयू को महज दो सीटों पर जीत दर्ज करने में सफलता मिली थी, लेकिन वोट प्रतिशत 15.8 प्रतिशत रहा था. तीनों दलों के वोट शेयर पर अगर गौर करें तो यह आंकड़ा कुल मिलाकर 51.6 प्रतिशत का हो जाता है. इस आंकड़े में अगर 4-5 प्रतिशत का बदलाव भी होता है तो एनडीए, महागठबंधन पर बीस साबित हो रही है. ज्ञात हो कि इस चुनाव से पूर्व महागठबंधन का शक्ल तैयार नहीं हुआ था.