बिहार: सहरसा में सात साल के बच्चे की गोली मारकर हत्या, गांव में पसरा मातम

बेखौफ अज्ञात अपराधियों ने सात वर्षीय बालक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. अपराधियों ने वारदात को उस वक्त अंजाम दिया जब बालक अपने दादा के साथ घर के दरवाजे पर सो रहा था. 

बिहार: सहरसा में सात साल के बच्चे की गोली मारकर हत्या, गांव में पसरा मातम
अज्ञात अपराधियों ने सात वर्षीय बालक की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

सहरसा: बिहार के सहरसा के सोनवर्षाराज थाना क्षेत्र के रखौता गांव में देर रात बेखौफ अज्ञात अपराधियों ने सात वर्षीय बालक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. अपराधियों ने वारदात को उस वक्त अंजाम दिया जब बालक अपने दादा के साथ घर के दरवाजे पर सो रहा था. अपराधियों द्वारा चलाई गई गोली बालक के सीने में जा लगी जिससे घटना स्थल पर ही बालक की मौत हो गई. 

मृत बच्चे का नाम सत्यम कुमार है. घटना के बारे में मिली जानकारी के अनुसार रखौता गांव निवासी विद्यानंद यादव अपने पोते के साथ अपने घर के दरवाजे पर सो रहे थे. इसी दौरान अज्ञात अपराधियों ने बच्चे को गोली मार दी. गोली सीने में लगी और घटना स्थल पर ही बच्चे ने दमतोड़ दिया. 

परिजनों ने आशंका जाहिर की है कि जमीनी विवाद में अज्ञात अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया है. घटना के बाद से मृतक बच्चे के परिवार वालों के बीच कोहराम मचा हुआ है आस-पास गांव में मातम पसरा हुआ है.

वहीं, घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने मृतक बच्चे के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की छानबीन करते हुए अपराधियों की तलाश में जुटी है. इस मामले पर सिमरी बख्तियारपुर एसडीपीओ मृदुला कुमारी ने बताया कि बालक अपने दादा के साथ रात में सोया हुआ था और इसी दौरान अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी.

इस घटना को लेकर जांच जारी है. मृतक बच्चे के दादा का गांव में कुछ विवाद था जिसके बारे में भी जांच की जा रही है. मृतक बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है फिलहाल पुलिस छानबीन कर रही है जल्द मामले का खुलासा होगा.