close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: बैठक में इंतजार करते रह गए दरभंगा सांसद, नहीं पहुंचे केंद्रीय विभागों के अधिकारी

बैठक में जिला की रेल ओवरब्रिज, बीएसएनएल और डाक विभाग से संबंधित कई महत्वपूर्ण योजनाओं पर चर्चा होने वाली थी. लेकिन इस बैठक में केंद्र सरकार से संबंधित विभागों के ही अधिकारी गायब रहे. 

बिहार: बैठक में इंतजार करते रह गए दरभंगा सांसद, नहीं पहुंचे केंद्रीय विभागों के अधिकारी
दरभंगा में आयोजित मीटिंग में नहीं पहुंचे केंद्रीय विभागों के अधिकारी.

दरभंगा: बिहार के दरभंगा (Darbhanga) में बुधवार को समाहरणालय के अंबेडकर सभागार में जिला विकास, समन्वय और निगरानी समिति की बैठक आयोजित की गयी थी. इस बैठक की अध्यक्षता दरभंगा सांसद गोपालजी ठाकुर (Gopal Jee Thakur) को करना था. बैठक में जिला की रेल ओवरब्रिज, बीएसएनएल और डाक विभाग से संबंधित कई महत्वपूर्ण योजनाओं पर चर्चा होने वाली थी. लेकिन इस बैठक में केंद्र सरकार से संबंधित विभागों के ही अधिकारी गायब रहे. समस्तीपुर रेल मंडल के डीआरएम, बीएसएनएल के जीएम और डाक विभाग के अधीक्षक नहीं पहुंचे.

ऐसे में बिना किसी चर्चा ही बैठक समाप्त हो गयी. इतना ही नहीं जब शहर में रेल ओवरब्रिज की प्रगति की रिपोर्ट सांसद ने पुल निर्माण निगम से मांगी तो पता चला कि काम अभी प्रारंभिक सर्वे के चरण में है. अधिकारियों के रवैये से सांसद नाराज भी दिखे.

सांसद गोपालजी ठाकुर ने बैठक से रेल डीआरएम, बीएसएनएल के जीएम और डाक अधीक्षक के गायब रहने पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि इन अधिकारियों के बैठक में नहीं आने से मुद्दों पर चर्चा नहीं हो सकी. सांसद ने इस संबंध में डीएम से रिपोर्ट मांगी है. उन्होंने रेल ओवरब्रिज के मामले में डीएम को पुल निर्माण निगम लिमिटेड के अधिकारियों से समन्वय स्थापित करने के लिए कहा.

बता दें कि दरभंगा शहर में सात रेल ओवरब्रिज बनाने की मंजूरी मिल चुकी है. लेकिन यह काम पिछले कई साल से अटका पड़ा है. दरभंगा शहर में रेलवे ओवरब्रिज के जल्द निर्माण के आठ वर्षों से जनप्रतिनिधियों के दावों की पोल खुलती नजर आई है. ओवरब्रिज शीघ्र निर्माण की उम्मीदों को उस समय तगड़ा झटका लगा जब बैठक में अधिकारी ही नहीं पहुंचे.