झारखंड: शहीद जवानों का हिंदू रीति-रिवाज से हुआ श्राद्धकर्म, ब्राह्मण-दिव्यांगों को कराया गया भोज

इस श्राद्ध में 11 ब्राह्मण, दिव्यांग बच्चों के साथ साथ कई लोगों को भोजन कराया गया. इस श्राद्धभोज में गिरिडीह के सांसद चंद प्रकाश चौधरी भी शामिल हुए .  

झारखंड: शहीद जवानों का हिंदू रीति-रिवाज से हुआ श्राद्धकर्म, ब्राह्मण-दिव्यांगों को कराया गया भोज
श्राद्धकर्म से पूर्व वीर शहीदों को लोगो ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दिया.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

रामगढ़: लद्दाख (Ladakh) की गलवान घाटी (Galwan Valley) में चीन  (China) के साथ भारत की हिंसक झड़प में शहीद हुए 20 जवानों का रामगढ़ में हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार, श्राद्धकर्म  किया गया. श्राद्धकर्म से पूर्व वीर शहीदों को लोगो ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दिया.

इस श्राद्धकर्म में सोमवार को बारहवीं का आयोजन कर लोगों को श्राद्धभोज कराया गया. इस श्राद्ध में 11 ब्राह्मण, दिव्यांग बच्चों के साथ साथ कई लोगों को भोजन कराया गया. इस श्राद्धभोज में गिरिडीह के सांसद चंद प्रकाश चौधरी भी शामिल हुए .

गौरतलब है कि, 15 जून को भारत-चीन सीमा में शहीद हुए जवानों के शहादत पर रामगढ़ के आजसू (AJSU) नगर अध्यक्ष ने अपना सिर मुंडवाया और कहा कि, हमलोग इन वीर शहीद हुए जवानों की हिन्दू रीति-रिवाज के अनुसार 10वी और बारहवीं भी करेंगे.

वहीं, आजसू सांसद ने कहा कि, शहीदों की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया और उनके याद में भोज का भी आयोजन किया गया. उन्होंने कहा कि, हम यही कहेंगे कि जो शहीद हुए हैं, वो वीर गति को प्राप्त हुए हैं. आने वाले समय में चीन ने जो इस तरह की गंदी हरकत किया है. इसका हम लोग मुंहतोड़ जवाब देंगे ये निश्चित है.