close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

साहिबगंज स्टेशन से शुरू की गई सोलर ट्रेन, डीआरएम ने दिखाई हरी झंडी

पूर्व रेलवे जोन के मालदा मंडल में साहिबगंज रेलवे स्टेशन से सोलर एनर्जी से चलने वाली डीएमयू ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया है.

साहिबगंज स्टेशन से शुरू की गई सोलर ट्रेन, डीआरएम ने दिखाई हरी झंडी
साहिबगंज स्टेशन से सोलर एनर्जी ट्रेन चलाया गया.

पंकज कुमार/साहेबगंजः पूर्व रेलवे जोन के मालदा मंडल में साहिबगंज रेलवे स्टेशन से सोलर एनर्जी से चलने वाली डीएमयू ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया है. मालदा मंडल के डीआरएम एसके मिश्रा ने ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस ट्रेन को साहिबगंज जमालपुर लोकल ट्रेन के रूप में चलाया गया.

साहिबगंज से चलकर यह ट्रेन किऊल तक जाएगी और फिर वापस साहिबगंज आएगी. डीआरएम एसके मिश्रा ने इस ट्रेन को हरि झंडी दिखाकर खुशी जाहिर की. उन्होंने कहा कि पर्यावरण की स्वच्छता और प्रदूषण मुक्त बनाने की दिशा में बड़ी पहल है.

उन्होंने कहा कि इस ट्रेन को फिलहाल ट्रायल के रूप में चलाया जा रहा है. इसकी सफलता के बाद आगे भी नई ट्रेनों को चलाने की योजना है. रेलवे इस पर अन्य काम भी कर रहा है जिससे इसे और बेहतर बनाया जा सके. इस ट्रेन से वायु प्रदूषण को रोकने में अहम भूमिका होगी. रेलवे इस तरह के प्रोजेक्ट पर लगातार काम कर रही है.

एसके मिश्रा ने कहा कि यह सौभाग्य है कि रेलवे ने पूर्व जोन रेलवे में मालदा डिवीजन को इसके लिए चुना है. केंद्र सरकार की नजर में साहिबगंज रेल पर नजर बनी हुई है.

वहीं, इस ट्रेन को लेकर यात्रियों में भी काफी खुशी है. यात्रियों का कहना है कि सोलर एनर्जी से चलने वाली ट्रेन काफी अच्छी है. ट्रेन को फूलों से सजाकर साहेबगंज स्टेशन से रवाना किया गया.

आपको बता दें कि, विश्व की पहली सोलर ट्रेन भारतीय रेलवे ने चलाई थी. साल 2017 में दिल्ली के सराय रोहिल्ला से गुरुग्राम के फारुख नगर तक चलाई गई थी. रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी. गौरतलब है कि ट्रेन में इंजन के अलावा सबकुछ सोलर एनर्जी से चलाया जाता है.