Breaking News
  • बिहार के लोग इतनी बड़ी आपदा का डटकर मुकाबला कर रहे हैं, इसके लिए बधाई: पीएम मोदी
  • बिहार विधान सभा चुनावी रैली में पीएम मोदी ने भोजपुरी में लोगों को किया प्रणाम
  • कोरोना के इस समय में भी गरीबों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए एनडीए सरकार ने काम किया: पीएम मोदी

कुछ लोगों को कष्ट है कि सोनिया गांधी PM केयर्स की सदस्य क्यों नहीं: संजय जायसवाल

संजय जायसवाल ने कहा कि पिछले एक सप्ताह के आंकड़ों से यह साफ है कि कोरोना के खिलाफ चल रही इस जंग में बिहार पूरे देश के सामने एक मिसाल बन कर उभर रहा है.

कुछ लोगों को कष्ट है कि सोनिया गांधी PM केयर्स की सदस्य क्यों नहीं: संजय जायसवाल
बिहार बीजेपी के अध्यक्ष हैं संजय जायसवाल. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Jaiswal) ने गुरुवार को यहां कहा कि कोरोना (Corona) के खिलाफ लड़ाई में बिहार ने मिसाल पेश की है. उन्होंने कहा कि सरकार के प्रयासों, जनता के मिल रहे समर्थन और सहयोग से आज बिहार में रिकवरी रेट 88 प्रतिशत तक पहुंच चुका है, जो देश के उच्चतम रिकवरी रेट में से एक है तथा राष्ट्रीय औसत से भी 11 प्रतिशत ज्यादा है.

बीजेपी प्रदेश कार्यालय में मीडिया सेंटर का उद्घाटन करते हुए जायसवाल ने कहा कि विपक्ष द्वारा कोरोना पर फैलाया गया झूठ, भ्रम तथा साजिश अब पूरी तरह से बेपर्दा हो चुका है. उन्होंने कहा कि पिछले एक सप्ताह के आंकड़ों से यह साफ है कि कोरोना के खिलाफ चल रही इस जंग में बिहार पूरे देश के सामने एक मिसाल बन कर उभर रहा है.

उन्होंने कहा, 'सरकार के प्रयासों और जनता के मिल रहे समर्थन से आज बिहार में रिकवरी रेट 88 प्रतिशत तक पहुंच चुका है, जो देश के उच्चतम रिकवरी रेट में से एक है तथा साथ ही राष्ट्रीय औसत से भी 11 प्रतिशत ज्यादा है. रोजाना एक लाख से अधिक टेस्ट किये जा रहे हैं, डेथ (मौत) रेट भी 1.85 प्रतिशत के करीब आ चुका है. अब तक 1.23 लाख से अधिक लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं.'

उन्होंने 'पीएम केयर्स फंड' की चर्चा करते हुए कहा कि आज बिहार को पीएम केयर्स फंड के तहत पांच-पांच सौ बेड के दो सबसे बड़े कोरोना अस्पताल मिल रहे हैं, जो इस फंड के जनहित में किए जा रहे सदुपयोग के उदहारण हैं. उन्होंने कहा कि बिहटा में एक अस्पताल प्रारंभ हो चुका है, वहीं मुजफ्फरपुर में शीघ्र अस्पताल की शुरुआत हो जाएगी.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, 'पीएम केयर्स पूरी तरह पारदर्शी है, लेकिन कुछ लोगों को कष्ट है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) क्यों इस ट्रस्ट की सदस्य नहीं है और क्यों नहीं इसके पैसे राजीव गांधी फाउंडेशन में जा रहे हैं.'

(इनपुट-आईएएनएस)