बिहार: महिलाओं को स्वाबलंबी बना रही SSB, सिलाई, कढ़ाई प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

कार्यक्रम का आयोजक एसएसबी 21वीं वाहिनी है. यह कार्यक्रम 27 सितंबर से 10 नवम्बर तक चलेगा. 

बिहार: महिलाओं को स्वाबलंबी बना रही SSB, सिलाई, कढ़ाई प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन
महिलाओं को दिया जा रहा प्रशीक्षण.

बगहा : बिहार के बगहा में इंडो-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी 21वीं वाहिनी ने सीमा सुरक्षा, सेवा और बंधुत्व के साथ गांव जवार के लिए दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र और पिछड़े इलाकों की महिलाओं को स्वाबलंबी बनाने के लिए सिलाई और कढ़ाई प्रशिक्षण की शुरुआत की है. कमांडेंट राजेन्द्र भारद्वाज ने बताया कि इस प्रशिक्षण का मकसद शिक्षित बेरोजगार कन्याओं को रोजगार दिलाना है.

प्रशिक्षण की अवधि 45 दिनों की है, जिसके लिए वाल्मीकिनगर थाना इलाके की 25 लड़कियों का चयन किया गया है. एसएसबी सेनानायक आर भारद्वाज ने बताया कि इस तरह का प्रोग्राम एसएसबी हर साल चलाता है, जिससे कि अशिक्षित बेरोजगार को रोजगार मिल सके. इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में लड़कियों को ट्रेनिंग देने का जिम्मा रमा टेक्निकल इंस्टीट्यूट को दिया गया है.

लाइव टीवी देखें-:

कार्यक्रम का आयोजक एसएसबी 21वीं वाहिनी है. यह कार्यक्रम 27 सितंबर से 10 नवम्बर तक चलेगा. इसके तहत ट्रेनिंग लेने वाली लड़कियों को प्रशिक्षण के बाद एक परीक्षा देनी होगी, जिसमें पास होने पर को रोजगार मुहैया कराने की भी कोशिश की जाएगी.

प्रशिक्षण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बगहा एएसपी अभियान धर्मेंद्र कुमार झा शामिल हुए, जिन्होंने दीप प्रज्वलित कर इस कार्यक्रम की शुरुआत की. उन्होंने बच्चियों, उनके अभिभावकों और उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बेटियों की बराबरी कभी भी बेटे नहीं कर सकते हैं. बेटियां ही देश की धरोहर के रूप में आगे बढ़ रही हैं. इसके साथ ही एसएसबी 21वीं वाहिनी के कमांडेंट राजेंद्र भारद्वाज ने कहा कि बेटियां ही इस समाज का निर्माण करती हैं. बेटियां अगर चाहे तो घर में ही सिलाई कढ़ाई कर अपनी जीविका को आगे ला सकती है.

-- Rashmi Sharma, News Desk