मॉरीशस में फंसे हैं 30 भारतीय छात्र, सीएम सोरेन से कर रहे घरवापसी कराने की गुहार

बताया जा रहा है कि छात्र फिलहाल वहां रह कर इंटर्नशिप कर रहे थे. अब उनका इंटर्नशिप का कार्यकाल खत्म हो गया है, लेकिन लॉकडाउन होने की वजह से अपने देश रांची नहीं लौट पा रहे हैं.

मॉरीशस में फंसे हैं 30 भारतीय छात्र, सीएम सोरेन से कर रहे घरवापसी कराने की गुहार
मॉरीशस में फंसे हैं 30 भारतीय छात्र, सीएम सोरेन से लगा रहे हैं घरवापसी कराने की गुहार. (फाइल फोटो)

रांची: एक तरफ कोरोना कहर जारी है तो दूसरी तरफ झारखंड के करीब 30 छात्र मॉरीशस में फंसे हुए हैं. सभी छात्र वहां रहकर होटल मैनेजमेंट की ओर से इंटर्नशिप कर रहे हैं. अब कोरोना के कहर की वजह से वापस अपने देश अपने घर लौटना चाहते हैं.

बताया जा रहा है कि छात्र फिलहाल वहां रह कर इंटर्नशिप कर रहे थे. अब उनका इंटर्नशिप का कार्यकाल खत्म हो गया है, लेकिन लॉकडाउन होने की वजह से अपने देश रांची नहीं लौट पा रहे हैं.

इसके अलावा मिली जानकारी के मुताबिक छात्र IIHM कोलकाता से पढ़ाई कर रहे हैं. 30 छात्रों में से छह छात्र रांची के हैं. अब न सिर्फ छात्र बल्कि उनके परिवारवाले भी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से घर वापसी की गुहार लगा रहे हैं. 

बता दें कि लॉकडाउन की वजह से सभी आवागमन के साधनों को भी बंद कर दिया गया है. संपूर्ण भारत में प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन के बाद 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया है. ऐसे में सोरेन सरकार के सामने मुश्किल है कि वह आखिर मॉरीशस में फंसे छात्रों को वहां से कैसे निकाले ताकि वह अपने स्वदेश लौट सकें.