रांची: 13वें दिन खत्म हुई सहायक पुलिसकर्मियों की हड़ताल, मिला 2 साल का सेवा विस्तार

साथ ही सचिव स्तर की उच्च कमिटी बनाकर मानदेय समेत तमाम मांगों पर सहायक पुलिसकर्मियों के साथ बातचीत कर समाधान निकाला जाएगा.

रांची: 13वें दिन खत्म हुई सहायक पुलिसकर्मियों की हड़ताल, मिला 2 साल का सेवा विस्तार
12 दिनों बाद खत्म सहायक पुलिसकर्मियों की हड़ताल, सरकार ने मांगें पूरी करने का दिया दिलासा.

रांची: अपनी 8 सूत्री मांगों को लेकर पिछले 12 दिनों से मोरहाबादी मैदान में 25 से 100 की संख्या में हड़ताल पर डटे सहायक पुलिसकर्मियों ने आज अपना हड़ताल खत्म कर दिया. पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर की पहल से मुख्यमंत्री से वार्ता कर सहायक पुलिसकर्मियों को 2 वर्ष का सेवा विस्तार दिया गया. 

साथ ही सचिव स्तर की उच्च कमिटी बनाकर मानदेय समेत तमाम मांगों पर सहायक पुलिसकर्मियों के साथ बातचीत कर समाधान निकाला जाएगा.

पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने इस मामले पर कहा कि मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के तौर पर हमने तीन बार सहायक पुलिसकर्मियों से बातचीत कर इसका समाधान निकाला. मंत्री ने कहा कि इन तमाम सहायक पुलिसकर्मियों के अनुबंध के दौरान यह शर्तें लिखित में ली गई है कि इनका 2 वर्ष और 1 वर्ष यानी 3 वर्ष तक ही इनका सेवा लिया जाएगा. 

इसके बाद यह सेवा विस्तार या स्थायीकरण या किसी भी तरह की मांग को लेकर प्रदर्शन यह हड़ताल नहीं करेंगे, लेकिन फिर भी हमारी सरकार झारखंडियों की सरकार है और यह सभी हमारे अपने भाई बहन हैं. इसलिए सरकार इनकी मांगों को लेकर गंभीर है और जरूर सकारात्मक पहल की जाएगी. अगर यह सभी मोराबादी मैदान में डटे रहते तो यहां कोरोना विस्फोट हो सकता था.

वही, सहायक पुलिसकर्मियों ने कहा कि 12 दिनों तक हम लोगों ने काफी संघर्ष किया है लेकिन मंत्री जी के पहल से एक सकारात्मक पहल हुई है और मामला आगे बढ़ रहा है. अभी फिलहाल सेवा विस्तार की मंजूरी मिली है लेकिन हम सबों को भी उम्मीद है कि हम सभी झारखंडी हैं और सरकार भी हेमंत सोरेन की है तो हम लोगों के साथ अच्छा होगा. इसी उम्मीद के साथ हम सभी अब अपने गृह जिला लौट रहे हैं और फिर से अपने कार्य पर तैनात हो जाएंगे.