राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि मामले में सुशील मोदी ने दी अदालत में गवाही

राहुल गांधी के खिलाफ दायर मानहानि मामले में शुक्रवार को सुशील मोदी एक अदालत के सामने पेश हुए.

राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि मामले में सुशील मोदी ने दी अदालत में गवाही
सुशील मोदी राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि मामले में कोर्ट में पेश हुए.

पटनाः राहुल गांधी के खिलाफ दायर मानहानि मामले में शुक्रवार को यहां एक अदालत के सामने पेश हुए बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने यह टिप्पणी करके उनकी छवि खराब की है कि 'सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है?' उन्होंने इस मामले में अदालत के सामने अपनी गवाही दर्ज कराई है.

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने अदालत से अनुरोध किया कि गांधी की टिप्पणी पर मानहानि से संबंधित भादंसं की धाराओं 499 और 500 के तहत संज्ञान लिया जाए और कांग्रेस अध्यक्ष को सम्मन जारी करके उनके खिलाफ सुनवाई की जाए.

सुशील मोदी ने बताया कि उन्होंने अदालत से कहा कि केवल वह नहीं बल्कि लाखों अन्य लोग जिनका 'मोदी' उपनाम है वे कांग्रेस अध्यक्ष की 'अविवेकपूर्ण' टिप्पणी के कारण हंसी का पात्र बन रहे हैं.

सुशील ने कहा, 'मैं पिछले सप्ताह दायर मानहानि वाद को लेकर अदालत के निर्देशानुसार मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश हुआ. मैंने कहा कि राहुल गांधी ने कर्नाटक के कोलार जिले की एक रैली में टिप्पणी की थी कि सभी चोरों का उपनाम मोदी होता है.' 

उन्होंने कहा, 'इस बयान का समाचार चैनलों पर प्रसारण हुआ और इसकी खबरें अखबारों में भी छपीं. इसकी वजह से मुझे शर्मिंदा होना पड़ा.' 

कांग्रेस अध्यक्ष अपनी कई रैलियों में भ्रष्टाचार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध चुके हैं और उन्होंने भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी तथा पूर्व आईपीएल प्रमुख ललित मोदी के संदर्भ में सवाल उठाया था कि सभी 'चोरों' का उपनाम 'मोदी' क्यों होता है.

अदालत के सूत्रों ने कहा कि मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कुमार गुंजन ने इस मामले को सुनवाई के लिए अगले महीने के लिए रख दिया.