बिहार: लालू-राबड़ी पर फिर बरसे डिप्टी सीएम सुशील मोदी, ट्वीट कर कुछ ऐसा...

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने गुरुवार को ट्वीट करके एक बार फिर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव और पूर्व सीएम राबड़ी देवी पर निशाना साधा है.

बिहार: लालू-राबड़ी पर फिर बरसे डिप्टी सीएम सुशील मोदी, ट्वीट कर कुछ ऐसा...
सुशील मोदी ने लालू यादव-राबड़ी देवी पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार की नीतीश कुमार सरकार (Nitish Kumar) में उपमुख्यमंत्री और बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी (Sushil Modi) ने एक बार ट्वीट कर राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के प्रमुख लालू यादव (Lalu Yadav) और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) पर निशाना साधा है.

सुशील मोदी ने राबड़ी देवी पर निशाना साधते हुए लिखा, 'बिहार की पहली महिला मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने ठीक ही कहा है कि 'जनता होशियार बा'. यदि ऐसा न होता तो विगत 15 सालों से आरजेडी सत्ता से बाहर न होता और न ही 2019 के संसदीय चुनाव में उसका सूपड़ा साफ होता. बिहार के करोड़ों समझदार मतदाताओं ने ही सामाजिक न्याय की ओट में भ्रष्टाचार, परिवारवाद और जातिवाद को बढ़ावा देने वाली पार्टी को गद्दी से उतारा.'

दरअसल, बुधवार को ट्वीट करके राबड़ी देवी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भोजपुरी अंदाज में निशाना साधा था. राबड़ी देवी ने लिखा, 'समुचा देश सीएए, एनआरसी, एनपीआर के ज्वाला में जल रहल बा बाकी नीतीश जी झुठों के जनता के बेवकूफ बनावे रहल बा. एक ओर सदन में एह बिल के समर्थन करता अउरू दूसर ओर बिल के लागू ना होखे के बात कहता. ई केकरा के मूर्ख बनावतारन. जनता सब जानता. ईन कर दूधारी तलवार के कुन्द करे के विचार जनता बना लेले बा.'

राबड़ी देवी के इस ट्वीट को लालू प्रसाद ने भी रीट्वीट करते हुए नीतीश कुमार पर निशाना साधा था. वहीं, अपने अगले ट्वीट में राबड़ी देवी ने लिखा, 'ई एकदम काला कानून बा! विनाश काले विपरित बुद्धि के चरितार्थ करता लोग. सरकार नौटंकी कर रहल बा. ई काला कानून लागू करे खातिर जागृति अउरू समर्थन खातिर शिविर लगावता ओउरू एगो कानून लागू ना होखे के बात कर रहल बा. बाकि जनता होशियार बा. एकनी के झांसा में जनता अब ना आई.'

बता दें कि सुशील मोदी ने इसी ट्वीट के जवाब में राबड़ी देवी पर निशाना साधा है. वहीं, सुशील मोदी ने आरजेडी सुप्रीमो पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा, 'चारा घोटाला के चार मामलों में सजायाफ्ता लालू प्रसाद जब पांचवें मामले में दोषी पाए जाने की प्रक्रिया में गवाही के लिए पेश हो रहे थे, तब बिहार सरकार के हरियाली मिशन पर टिप्पणी कर रहे थे. कुछ बोलने से पहले वे कागज-सबूत न सही, कोर्ट के दरवाजे पर अपना हाल तो देख लेते!'

गौरतलब है कि लालू यादव ने ट्वीट कर नीतीश सरकार की जल जीवन हरियाली यात्रा पर निशाना साधा था. लालू यादव ने लिखा, 'छल, छीजन और घरियालीपन यात्रा वाले महानुभाव ने गरीब राज्य के नौजवानों, किसानों और कर्मचारियों का 24500 करोड़ लूट लिया. ऊपर से सरकारी संसाधनों की बर्बादी एवं करोड़ों रुपए मानव शृंखला की नौटंकी पर खर्च कर सुशासनी भ्रष्टाचार को वैध बनाने व जनता को दिग्भ्रमित करने की कोशिश है.'

बता दें कि इस साल के अंत में बिहार विधानसभा के चुनाव होने हैं. ऐसे में चुनाव से पूर्व राज्य में सियासी बिसात बिछने लगी है और राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो गया है.