close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आर्टिकल 370: सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव पर साधा निशाना, जनादेश के अपमान का लगाया आरोप

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने एक ट्वीट के जरिए आरजेडी नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है.

आर्टिकल 370: सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव पर साधा निशाना, जनादेश के अपमान का लगाया आरोप
सुशील मोदी का तेजस्वी यादव पर निशाना. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) पर जनादेश के अपमान करने का आरोप लगाया है. एक ट्वीट में सुशील मोदी ने लिखा है कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) धारा 370 हटाने का विरोध कर जनादेश का अपमान कर रहे हैं. इस मामले पर आरजेडी ने जहां सुशील मोदी से ही सवाल किए हैं. वहीं, दूसरी तरफ जेडीयू ने इस पर सधी प्रतिक्रिया दी है. बीजेपी ने सुशील मोदी के ट्वीट का समर्थन किया है.

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने एक ट्वीट के जरिए आरजेडी नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है. बुधवार को एक ट्वीट के जरिए सुशील मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाया जाना जनादेश का सम्मान है. क्योंकि बीजेपी ने आम चुनाव में देश के लोगों से ट्रिपल तलाक और धारा 370 हटाने के नाम पर वोट मांगा था. देश की जनता ने इसके लिए समर्थन दिया है, लेकिन तेजस्वी यादव धारा 370 को हटाने का विरोध कर जनमत के खिलाफ जा रहे हैं और जनादेश का विरोध कर रहे हैं.

आरजेडी नेता और बिहार विधान परिषद में विरोधी दल के मुख्य सचेतक सुबोध राय ने कहा है कि अब कितने बयान बीजेपी के नेता धारा 370 पर देंगे. किस जनादेश की बात कर रहे हैं बीजेपी के नेता. क्या बीजेपी ने संकल्प पत्र में नौकियां छीनने की बात कही थी. क्या बीजेपी ने कंपनियों पर ताला लटक जाने की बात कही थी. आज डॉलर के मुकाबले रुपया कितने निचले स्तर पर है, इस पर बीजेपी के नेता क्यों नहीं बोलते हैं.

बीजेपी ने जहां खुलकर इस पर अपनी राय रखी है वहीं दूसरी तरफ जेडीयू ने सधी हुई प्रतिक्रिया दी है. प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि अब ये मान लेना चाहिए कि धारा 370 इस देश में नहीं है. इसे संसद के दोनों सदनों से हटाने का प्रस्ताव पारित हुआ है. जेडीयू पहले ही इस मसले पर अपनी राय साफ कर चुकी थी. लेकिन आरजेडी का विरोध सिर्फ प्रतीकात्मक ही है. तीन तलाक पर संसद से आरजेडी के ही लोग गायब थे.

बीजेपी नेता और बिहार विधान परिषद के सदस्य नवलकिशोर यादव ने कहा कि ट्रिपल तलाक और धारा 370 देश के लिए एक अपमान था, जिसे हटा दिया गया है. आरजेडी तो मुट्ठी भर लोगों की पार्टी रह गई है. अब तेजस्वी यादव के बयान का कोई अर्थ नहीं रह जाता है.