बिहार में मिठाई से लेकर दाल तक हुई जहरीली, FSI की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

अगर आप काजू की बर्फी के शौकीन हैं तो संभल जाइये, क्योंकि ये काजू की बर्फी आपकी सेहत पर भारी पड़ सकती है.

बिहार में मिठाई से लेकर दाल तक हुई जहरीली, FSI की रिपोर्ट में हुआ खुलासा
स्वास्थ्य विभाग करेगा कार्रवाई.

पटना: अगर आप काजू की बर्फी खाते हैं तो सावधान हो जाइये. अगर आप दाल के शौकीन हैं तो अपने शौक बदल लीजीए. अगर आप अपनी सब्जी में हल्दी डालते हैं तो जरा संभल जाइये. क्योंकि स्वाद और सेहत के ये तमाम समान आपकी सेहत बिगाड़ सकता है. दीपावली के वक्त फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट्स की ओर से जांच के लिए ली गई मिठाई के सैंपल्स की जांच रिपोर्ट आ चुकी है. रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने आम लोगों से अपने खाने को लेकर सतर्क रहने की अपील की है.

बात जब भी किसी शुभ काम की होती है तो लोग एक दूसरे का मुंह मीठा कराते हैं. मिठाई में भी आजकल काजू की बर्फी का प्रचलन खूब है. अगर आप काजू की बर्फी के शौकीन हैं तो संभल जाइये, क्योंकि ये काजू की बर्फी आपकी सेहत पर भारी पड़ सकती है.

पटना के दुकानों में मिलने वाली सभी काजू की बर्फी सेफ नहीं है. क्योंकि दुकानदार ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए अब काजू की बर्फी पर चांदी की बरक चढ़ाने की बजाय अल्यूमिनियम की बरक चढ़ा रहे हैं, जिससे आपके लीवर और किडनी दोनों डैमेज हो सकते हैं.

दीपावली से पहले पूरे बिहार से लिये लिए गए मिठाइयों के सैंपल की जांच रिपोर्ट आ चुकी है. फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट की ओर से जारी की गई जांच रिपोर्ट चौकाने वाले हैं. जांच के लिए पूरे बिहार से 428 सैंपल लिए गये थे, जिसमें 56 नमूने फेल पाए गये. पटना से 128 रिपोर्ट लिये गये थे, जिसमें 24 में मिलावट पाए गये. खास बात यह है कि ज्यादातर पनीर के सैंपल में आरारोट के मिलावट पाए गये. वहीं, लड्डू में समान्य रंग की बजाय मैटालीन रंग की मिलावट पाई गई. वहीं, खोआ में स्टार्च की मात्रा पाई गयी. ये मिलावट किडनी, लीवर और ब्रेन पर असर तो डालते ही हैं, इससे कैंसर होने की भी संभावना रहती है.

पटना में मिठाइयों की जांच में काफी रोचक जानकारियां सामने आई हैं. 24 नमूनों में खोवा, पेड़ा, छेना मिठाई, पनीर, क्रीम चाप, नारियल मिठाई, काजू बर्फी मिस ब्रांडेड पायी गयी. साथ ही उनमें स्टार्च भी काफी पाया गया. काजू की बर्फी और नारियल मिठाई में एल्यूमिनियम के बरक चढाये पाये गये.

गया और सहरसा के लड्डू जानलेवा पाये गये. लड्डू में खतरनाक पीले रंग (मेटालीन येलो) की मिलावट पाई गई. स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार कहते हैं कि काजू की बर्फी में एल्यूमिनियम, पनीर में आरारोट, लड्डू में मेटालीन येलो कलर, खोवा में स्टार्च की मिलावट पायी गयी है. जिन दुकानदारों ने मिलावट की है उनपर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने कहा कि हमें जानकारी मिल रही है कि सिर्फ मिठाईयों में ही नहीं बल्कि हल्दी और दाल में भी केमिकल का इस्तेमाल किया जा रहा है. हल्दी में लेडक्रोमेट मिलाया जा रहा है, ताकि हल्दी का रंग गाढ़ा पीला हो जाय. साथ ही मसूर दाल में भी सिंथेटिक रंग का इस्तेमाल किया जा रहा है ताकि दाल खूबसूरत चमकदार दिखे. स्वास्थ विभाग अपने स्तर से कार्रवाई कर रहा है. लेकिन लोगों को भी मिलावटी खाद्य पदार्थों को लेकर सचेत रहने की जरुरत है.