close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नीतीश कुमार के सर्वदलीय बैठक में नहीं शामिल हुए, दोनों सदनों के प्रतिपक्ष नेता

जलवायु परिवर्तन को लेकर हुई सर्वदलीय बैठक में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष राबड़ी देवी गायब रहीं.

नीतीश कुमार के सर्वदलीय बैठक में नहीं शामिल हुए, दोनों सदनों के प्रतिपक्ष नेता
सर्वदलीय बैठक में तेजस्वी और राबड़ी देवी शामिल नहीं हुए. (फाइल फोटो)

पटनाः जलवायु परिवर्तन के कारण हो रहे जल संकट को लेकर नीतीश कुमार ने सर्वदलीय बैठक बुलायी. बैठक में सभी दलों के विधायक विधान पार्षद और सरकार के मंत्री शामिल हुए. लेकिन इतने महत्पूर्ण बैठक से विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष राबड़ी देवी गायब रहीं. मंत्री संजय झा ने दोनों को नॉन सीरियस पॉलिटिशियन बताकर बड़ा हमला बोल दिया है.

जलवायु परिवर्तन को लेकर शनिवार को हुई आठ घंटे की सर्वदलीय बैठक ऐतिहासिक रही. ये पहला मौका था जब पर्यावरण को बचाने के लिए सभी दलों के विधायक और विधान पार्षद एक मंच पर आए. लेकिन इस मंच पर नहीं आए तो तेजस्वी यादव और राबडी देवी. दोनों की गैरमौजूदगी पर सवाल उठना भी लाजिमी था. क्योंकि एक विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं तो दूसरी विधान परिषद में. जेडीयू ने मीटिंग से दोनों की गैरमौजूदगी पर चुटकी ली है. मंत्री संजय झा ने कहा कि मीटिंग सीरियस इश्यू पर थी. और जिन लोगों की चर्चा हो रही है उन लोगों ने हमेशा नॉन सीरियस पॉलटिक्स की है. ऐसे में उनलोगों पर जवाब देना ठीक नहीं.

तेजस्वी राबडी पर सवाल केवल जेडीयू ने ही नहीं उठाए बल्कि कांग्रेस विधायक शकील अहमद ने भी सवाल खडे किये. हलांकि शकील अहमद ने कहा कि दोनों के नहीं आने का मामला दोनों का व्यवक्तिगत फैसला है. लेकिन अगर आप लोगों को दोनों दिख जाएं तो उनसे ये सवाल जरुर पूछें कि वो लोग इतनी महत्वपूर्ण बैठक में क्यों नहीं पहुंचे. 

वहीं, आरजेडी ने तेजस्वी और राबड़ी देवी का बचाव किया है. पार्टी के विधायक कुमार सर्वजीत ने कहा है कि मीडिया हर वक्त तेजस्वी को ही कठघरे में क्यों खड़े करती है. मीटिंग में आरजेडी के कई विधायक भी मौजूद हैं उन्हें देखना चाहिए. अगर सवाल पूछना है तो बीजेपी के विधायकों को लेकर सवाल पूछिये. क्योंकि बीजेपी के सारे विधायक मीटिंग से गायब हैं.

मौका कोई भी हर मौके से तेजस्वी की गैरमौजूदगी चर्चा का विषय बन ही जाती है. लेकिन राबडी की गैरमौजूदगी ने इस सवाल को और बडा बना दिया है.