close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रामविलास पासवान को जवाब देने से तेजस्वी ने किया इनकार, कहा- 'मैं उनकी इज्जत करता हूं'

रामविलास पासवान के बयान पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

रामविलास पासवान को जवाब देने से तेजस्वी ने किया इनकार, कहा- 'मैं उनकी इज्जत करता हूं'
तेजस्वी यादव ने कहा रामविलास पासवान को जनता जवाब देगी. (फाइल फोटो)

पटनाः रामविलास पासवान ने हाल ही में कहा था कि अंगूठा छाप भी बिहार में मुख्यमंत्री बन जाते हैं. इस बयान के बाद बिहार में सियासत कम होने का नाम नहीं ले रही है. विपक्ष के नेता लगातार रामविलास पासवान पर निशाना साध रहे हैं. पासवान के इस बयान को सीधे तौर पर राबड़ी देवी से जोड़कर देखा जा रहा है. वहीं, पासवान के इस बयान पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. हालांकि उन्होंने कहा कि उन्हें जनता इसका जवाब देगी.

तेजस्वी यादव ने रामविलास पासवान के अंगूठा छाप वाले बयान पर कहा कि रामविलास पासवान गार्जियन हैं. मैं उनकी इज्जत करता हूं. मैं संस्कारी हूं इसलिए इस पर कुछ नहीं कह सकता. लेकिन उनके बयान का जवाब बिहार की जनता उन्हें देंगी. उनपर मैं किसी तरह की टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं.

वहीं, तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में एनडीए हार चुकी है और यूपी में हार की शुरुआत हो गई है. उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन को लेकर दोनों दलों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि यह गठबंधन, नेहरू, कर्पूरी और लोहिया के विचारों का गठबंधन है.

उन्होंने कहा कि लालू यादव ने जो महागठबंधन की कल्पना की थी वह अब साकार होता नजर आ रहा है. साथ ही कहा कि गठबंधन से यूपी में बीजेपी खाता नहीं खोल पाएगी. और बीजेपी इस गठबंधन के सामने चुर-चुर हो जाएगी. बिहार में भी इसी तरह की महागठबंधन बन रही है. 

वहीं, यूपी में हुए सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं करने पर तेजस्वी ने कहा दोनों पार्टियां ही बीजेपी को हराने के लिए काफी है.

सपा-बसपा गठबंधन को लेकर जहां तेजस्वी यादव ने कहा कि जरूरत नहीं है दोनों की पार्टियां बीजेपी को हरा देगी. वहीं, हम पार्टी प्रमुख जीतनराम मांझी ने इस गठबंधन को लेकर सपा और बसपा को सलाह देते हुए कहा कि दोनों पार्टियों को कांग्रेस को कम आंकने की भूल नहीं करना चाहिए. उन्होंने कहा कि तीन राज्यों के चुनाव में भी महागठबंधन बनना था, लेकिन कांग्रेस ने अकेले चुनाव लड़ा और नतीजा सबके सामने है.