बंगला खाली करने के सवाल पर बोले तेजस्वी यादव, नीतीश कुमार के मन में मेरे प्रति इतना गुस्सा क्यों?

तेजस्वी जब उपमुख्यमंत्री बने थे तो उन्हें उनके पद के हिसाब से यह बंगला रहने के लिए दिया गया था. गठबंधन टूटने के बाद सरकार बदली. अब उपमुख्यमंत्री के पद पर सुशील मोदी काबिज हैं.

बंगला खाली करने के सवाल पर बोले तेजस्वी यादव, नीतीश कुमार के मन में मेरे प्रति इतना गुस्सा क्यों?
बंगला प्रकरण पर तेजस्वी यादव ने साधा नीतीश कुमार पर निशाना. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बंगला प्रकरण में जी मीडिया से खास बातचीत में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जुबानी हमला किया है. उन्होंने कहा कि उनका नाम ही नीतीश कुमार है, कुछ भी कर सकते हैं. तेजस्वी ने कहा कि जब बंगला खाली करने का मामला सुप्रीम कोर्ट के डबल बेंच में है तो फिर कार्रवाई की नौबत क्यों आई है?

तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार के मन में मेरे प्रति इतना गुस्सा और नफरत क्यों है? साथ ही उन्होंने कहा कि सीएम खुद दो-दो बंगला रखे हुए हैं. ज्ञात हो कि तेजस्वी जब उपमुख्यमंत्री बने थे तो उन्हें उनके पद के हिसाब से यह बंगला रहने के लिए दिया गया था. गठबंधन टूटने के बाद सरकार बदली. अब उपमुख्यमंत्री के पद पर सुशील मोदी काबिज हैं. यह बंगला सुशील मोदी को देने के लिए तेजस्वी यादव से इसे खाली करने के लिए कहा गया है.

बंगला खाली नहीं करने के सवाल पर तेजस्वी ने कहा कि बार-बार शिफ्टिंग को लेकर हम क्यों घूमते रहें. जेडीयू के कई ऐसे नेता हैं जो कुछ भी नहीं फिर भी उन्हें बंगला मिला हुआ है. तेजस्वी ने पूछा कि उनका घर क्यों नहीं खाली करवाया जा रहा है?

इससे पहले राज्य सरकार की ओर बंगला खाली करने के आदेश को सही ठहराते हुए पटना हाईकोर्ट ने तेजस्वी यादव की याचिका खारिज कर दी थी. पटना हाईकोर्ट ने राज्य सरकार की उस दलील को सही माना था जिसमें यह कहा गया था कि तेजस्वी यादव को पांच देशरत्न मार्ग आवास उपमुख्यमंत्री की हैसियत से आवंटित किया गया था. बाद में वह इस पद पर नहीं रहे जिसकी वजह से उनका आवंटन सरकार ने रद्द कर दिया है. 

ज्ञात हो कि तेजस्वी यादव के बंगला को खाली कराने के लिए आज (बुधवार को) पुलिस पहुंची. पटना के पांच देशरत्न मार्ग स्थित बंगले को खाली कराने जब पुलिस की टीम पहुंची तो उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा. पार्टी कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी यादव के पक्ष में नारे लगाए. आरजेडी का कहना है कि मामला फिलहाल सुप्रीम कोर्ट में लंबित है इसलिए तेजस्वी बंगला खाली नहीं करेंगे. वहीं, इस पूरे मामले में तेजस्वी यादव को उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव का साथ मिला है.

आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने कहा कि सरकार की नजर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर नहीं जाती है, लेकिन लालू परिवार को कैसे परेशान किया जाए इसी पर ध्यान केंद्रित है. साथ ही उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष की हैसियत से तेजस्वी यादव 5, देशरत्न मार्ग में रहते हैं. उन्होंने कहा कि पूरा बिहार देख रहा है कि कैसे हमारे परिवार को परेशान किया जा रहा है.