सबसे अक्षम बिहार सरकार 12 करोड़ लोगों के स्वास्थ्य के साथ कर रही खिलवाड़: तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव ने कहा कि हकीकत ये है कि, बिहार जैसे प्रदेश में आज भी औसत जांच 5 हजार से कम है. आपदाकाल में झूठ बोलना महापाप है.  

सबसे अक्षम बिहार सरकार 12 करोड़ लोगों के स्वास्थ्य के साथ कर रही खिलवाड़: तेजस्वी यादव
तेजस्वी यादव ने कहा, 'चार महीने बाद भी बिहार कोरोना जांच में सबसे पीछे है. (फाइल फोटो)

पटना: विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कोरोना (Corona) जांच को लेकर नीतीश कुमार (Nitish Kumar) सरकार पर हमला किया है. आरजेडी नेता ने कहा है कि, कोरोना काल में देश की सबसे अक्षम बिहार सरकार 12 करोड़ बिहारियों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रही है.

तेजस्वी यादव ने कहा, 'चार महीने बाद भी बिहार कोरोना जांच में सबसे पीछे है. संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है. कोई नया कोविड अस्पताल नहीं बन पाया, ना ही रैंडम सैंपलिंग हो रही है. सरकार ने जांच नहीं तो केस नहीं का फॉर्म्युला अपना रखा है.'

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा कि, हमने शुरू से ही आगाह किया की जांच की गति और दायरा बढ़ाया जाए. सीएम ने वादा किया कि, 10 हजार जांच प्रतिदिन किए जाएंगे. मुख्यमंत्री जी ने कुछ हफ्ते पहले पीएम को 20 हजार जांच करने का भरोसा दिलाया. हकीकत ये है कि, बिहार जैसे प्रदेश में आज भी औसत जांच 5 हजार से कम है. आपदाकाल में झूठ बोलना महापाप है.

तेजस्वी ने कहा कि, कम जांच करने के पीछे सीएम की मंशा कम संक्रमण दिखाने की है. लेकिन इससे खतरा आमजनों को है. आंकड़ों की बाजीगरी से सरकार वास्तविकता छुपा सकती है. लेकिन विस्फोटक होती स्थिति को काबू करने का कोई उपाय नहीं है. बिहार में कुल जांच में पॉजिटिव मरीजों का प्रतिशत 4.48 है, जो कि खतरे की घंटी है‬.