close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हजारीबाग: महापौर-वार्ड पार्षद की लड़ाई में फंसा शहर, जनता हो रही बेहाल

अखबारों में निगम की कार्यशैली को लेकर चर्चा होती रही है. महापौर और वार्ड पार्षदों के बीच के झंझट में फंसी हजारीबाग की जनता बेहाल है.

हजारीबाग: महापौर-वार्ड पार्षद की लड़ाई में फंसा शहर, जनता हो रही बेहाल
गर निगम की महापौर रोशनी तिर्की ने वार्ड पार्षदों को धरना प्रदर्शन करने की वजह के पीछे ठेकेदारी को बताया है.

हजारीबाग: झारखंड के हजारीबाग में नगर निगम में जनजातीय महिला रोशनी तिर्की जब से महापौर बनकर आई हैं, तभी से अखबारों में निगम की कार्यशैली को लेकर चर्चा होती रही है. महापौर और वार्ड पार्षदों के बीच के झंझट में फंसी हजारीबाग की जनता बेहाल है. नगर निगम की महापौर रोशनी तिर्की ने वार्ड पार्षदों को धरना प्रदर्शन करने की वजह के पीछे ठेकेदारी को बताया है.

उनका कहना है कि पार्षद पर्दे के पीछे से ठेकेदारी करते हैं, जिससे उनके महापौर को दखल बर्दाश्त नहीं होता. साथ ही उन पर कमीशन खोरी जैसे आरोप लग रहे हैं. महापौर रोशनी तिर्की का साफ कहना है कि हमारी बात कोई सुनता नहीं है. बोर्ड में जो निर्णय लिए जाते हैं वह भी सही से नहीं लिए जाते. 

उन्होंने ये भी कहा कि मुझे संघर्ष करना होगा और जनता के विश्वास पर खरा उतरना होगा, और इसके लिए सभी का सहयोग चाहिए. नगर निगम के वार्ड पार्षदों ने महापौर पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया और कहा कि कमीशन खोरी के लिए उनके गुंडे, ठेकेदारों को जबरन अपने घर ले जाते हैं और मामला निपट जाने पर दोबारा काम शुरू होता है. 

अगर इस बार महापौर ने मनमानी की तो बर्दाश्त नहीं करेंगे. साथ ही महापौर ने पार्षदों पर जो ठेकेदारी का आरोप लगाया है, उसके लिए उन्हें माफी मांगनी होगी. वार्ड पार्षदों ने कहा कि अगर ये विवाद यूं ही चलता रहा तो सभी वार्ड पार्षद मिलकर इस्तीफा देने को भी तैयार हो जाएंगे

हजारीबाग की जनता में नगर निगम गठन के साथ ही कई तरह के अरमान पलने लगे थे. उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था कि निगम गठन के बाद भी विवादों का सिलसिला चलता रहेगा. ऐसे में अब जरूरत है हजारीबाग के सांसद और स्थानीय विधायक के दखल अंदाजी की ताकि मामले का निपटारा हो सके और हजारीबाग की जनता को नगर निगम का लाभ मिल सके.
Jyoti, News Desk