जमुई: चोरी करने गए थे बदमाश, पकड़े गए तो युवक पर बम फेंक कर दिया लहुलुहान

डॉग स्क्वॉड सोमवार की सुबह झाझा एसडीपीओ सतीशचंद्र मिश्रा की अगुवाई में घटनास्थल पर पहुंची और लगभग 600 मीटर की दूरी तक छानबीन करते हुए पास की नदी में जाकर रूक गया.

जमुई: चोरी करने गए थे बदमाश, पकड़े गए तो युवक पर बम फेंक कर दिया लहुलुहान
जमुई: चोरी करने गए थे बदमाश, पकड़े गए तो युवक पर बम फेंक कर दिया लहुलुहान.

मनीष/जमुई: देर रात घर में बरतन गिरने जैसी आहट सुनकर पिता ने अपने पुत्र को जगाया और देखने को कहा, लेकिन जैसे ही बेटे ने दरवाजा खोला चार-पांच की संख्या में बाहर खड़े लुटेरों ने युवक पर बम फेंक कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया. घटना झाझा थानाक्षेत्र के बलियाडीह गांव के बरनवाल टोला की है. 

पीड़ित रामधनी बरनवाल ने बताया कि घर के पिछले रास्ते से बदमाश घर के अंदर प्रवेश कर गए. रविवार की रात करीब 12:10 बजे जब घर में खाना खाकर रामधनी बरनवाल और उनके बेटे आलोक बरनवाल घर में सो रहा था, तभी घर में बरतन गिरने जैसी आहट हुई. आवाज सुनकर रामधनी बरनवाल की नींद खुल गई और उसने अपने पुत्र आलोक को जगाया. 

आलोक ने पिता को कहा आप रूकिए मैं देखकर आता हूं. इसके बाद आलोक दरवाजे की ओर गया और जैसे ही दरवाजा खोला जोरदार आवाज हुई. रामधनी दौड़कर आए तो देखा की चार-पांच की संख्या में अपराधी सामान लेकर दक्षिण की ओर भाग रहा है, जबकि उनका पुत्र आलोक लहुलुहान गिरा पड़ा है. अपराधियों ने उसपर बम फेंका था जिससे आलोक गंभीर रुप से घायल हो चुका था. 

घायल युवक आलोक बेंगलुरु में रहकर इंजीनियरिंग का कोर्स खत्म कर पटना में नौकरी से संबंधित तैयारी कर रहा था. बीते तीन दिन पूर्व ही वह अपने घर आया था. घटना के बाद सुबह से बलियाडीह में लोगों के बीच भय का माहौल बना हुआ है. हर तरफ घटना की चर्चा से लोगों में भय का माहौल बना है. 

इधर, घटना की जानकारी मिलते ही एसपी पीके मंडल ने डॉग स्क्वॉड से मामले की जांच करवाई और झाझा एसडीपीओ के नेतृत्व में जांच के लिए एसआईटी टीम का गठन कर दिया. घटनास्थल पर जांच के दौरान पुलिस को एक पर्स मिला है. उस पर्स में मेडिकल से संबंधित कुछ कागजात भी मिले हैं. पुलिस मान रही है कि यह पर्स अपराधियों का है जो घटना को अंजाम देने के दौरान घटनास्थल पर गिरा है. 

डॉग स्क्वॉड सोमवार की सुबह झाझा एसडीपीओ सतीशचंद्र मिश्रा की अगुवाई में घटनास्थल पर पहुंची और लगभग 600 मीटर की दूरी तक छानबीन करते हुए पास की नदी में जाकर रूक गया.

इधर, घटना की सूचना के बाद एसपी पीके मंडल झाझा पहुंचे और घायल युवक के घर जाकर उसके पिता से घटना की जानकारी ली. एसपी ने बदमाश जिस रास्ते से मकान के अंदर घुसा था उस रास्ते की बारीकी से जांच की. एसपी ने बताया कि घर के मालिक रामधनी बरनवाल अपने ही घर में दुकान चलाता है. उसने अपना गहना एक डिब्बे मे बिस्कुट के नीचे छिपाकर रखा था, जिसे बदमाशों ने चोरी की. 

इससे साफ जाहिर होता है कि बदमाश को इस बात की जानकारी थी. पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है जिससे पूछताछ की जा रही है. घटना के उद्भेदन के लिए झाझा एसडीपीओ के नेतृत्व में एसआईटी टीम बनाया गया है, जिसमें झाझा एसएचओ श्रीकांत कुमार, सिमुलतला एसएचओ राजकुमार पासवान, एसआई मो. हलीम, कामेश्वर प्रसाद, दिलीप चौधरी सहित कई पुलिस जवानों को शामिल किया गया है.