close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गया: सरसों से बनाई गई मां दुर्गा की प्रतिमा बनी आकर्षण का केंद्र, दूर-दूर से देखने आ रहे लोग

प्रतिमा के निर्माण के लिए राजस्थान से 80 किलो सरसो मंगवाया था जिससे निर्माण किया गया है. मां दुर्गा के अलावा पंडाल में मौजूद अन्य प्रतिमाओं को भी सरसों के दाने से बनाया गया है.

गया: सरसों से बनाई गई मां दुर्गा की प्रतिमा बनी आकर्षण का केंद्र, दूर-दूर से देखने आ रहे लोग
न मानपुर मुहल्ले के तेली टोला में कुछ अलग ही पंडाल और मां दुर्गा की प्रतिमा को स्थापित किया गया है.

गया: शारदीय नवरात्र के मौके पर बिहार के गया जिले में ऐसे तो कई स्थानों पर भव्य पंडाल और मां दुर्गा की प्रतिमा बैठाई गई है लेकिन मानपुर मुहल्ले के तेली टोला में कुछ अलग ही पंडाल और माँ दुर्गा की प्रतिमा को स्थापित किया गया है.

यहां के पंडाल में बिहार के सासाराम के गुप्ता धाम के गुफा के तर्ज पर पंडाल बनाया गया है. आप देख सकते हैं कि किस तरह से गुफा निर्माण किया गया सबसे खास बात यह है कि पंडाल के अंदर जो भव्य माँ दुर्गा की प्रतिमा स्थापित की गई है, वो सरसों के दाने से बनाया गया है.

वहीं, प्रतिमा के निर्माण के लिए राजस्थान से 80 किलो सरसो मंगवाया था जिससे निर्माण किया गया है. मां दुर्गा के अलावा पंडाल में मौजूद अन्य प्रतिमाओं को भी सरसों के दाने से बनाया गया है.

यही वजह है कि इस पंडाल और भव्य सरसों के दाने से बने मा दुर्गा की प्रतिमा को देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग आ रहे हैं. आपको बता दें कि पिछले वर्ष बालू से इस पंडाल में प्रतिमा को बनाई गई थी.