रांची: छठी जेपीसी मामले पर आया फैसला, आरक्षण नियम फॉलो नहीं करने का था आरोप

हाईकोर्ट ने नेतरहाल कैबिनेट के फैसले को खारिज कर दिया है. जेपीसी द्वारा जारी किया गया दूसरा संशोधित रिजल्ट ही मान्य रहेगा. 

रांची: छठी जेपीसी मामले पर आया फैसला, आरक्षण नियम फॉलो नहीं करने का था आरोप
जेपीसी द्वारा जारी किया गया दूसरा संशोधित रिजल्ट ही मान्य रहेगा.

रांची: झारखंड के रांची हाईकोर्ट ने छठी जेपीसी के मामले पर बड़ा फैसला सुनाया है. हाईकोर्ट ने नेतरहाल कैबिनेट के फैसले को खारिज कर दिया है. जेपीसी द्वारा जारी किया गया दूसरा संशोधित रिजल्ट ही मान्य रहेगा.

अभ्यर्थियों का कहना है कि इस मामले में उनकी जीत हुई है. अब आरक्षण नियमों को लेकर पीआईएल की तैयारी की तैयारी की जा रही है. आपको बता दें कि छठी जेपीसी के के लिए सबसे पहले 5200 रिजल्ट निकाले गए थे.

लेकिन इस रिज्लट के जारी करने के बाद अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया था कि जांच के दौरान आरक्षण के नियमों का पालन नहीं किया गया है. जिसके बाद जेपीसी ने संशोधित रिजल्ट निकालते हुए 965 अतिरिक्त छात्रों को पास किया था.

छात्रों के फिर हुए विरोध के बाद संशोधन करते हुए फिर से 34 हजार रिजल्ट निकाला गया था. इस रिजल्ट के लिए नेतरहाट कैबिनेट ने फैसला लिया था. वहीं, आज फैसले पर नेतरहाट कैबिनेट को झटका लगा है. हाइकोर्ट ने पहले संशोधित रिजल्ट को वैद्द करार दिया है.