गढ़वा: खाना पका रहा थी महिला, बाघ ने बनाया अपना निवाला

असल में महिला कलशिया खुद खाने के लिए मांस पका रही थी कि तभी उस मांस की गंध को सूंघते बाघ वहां आ धमका और महिला पर हमला कर दिया.

गढ़वा: खाना पका रहा थी महिला, बाघ ने बनाया अपना निवाला
इस हादसे के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल है.

गढवा: अभी वह खुद के लिए निवाले की व्यवस्था में जुटी थी. लेकिन उसे क्या मालूम था कि वह खुद दूसरे का निवाला बन जाएगी. जी हां, झारखंड के गढ़वा में एक महिला को बाघ ने अपना निवाला बना लिया. दरअसल, जिले के रमकंडा थाना क्षेत्र अंतर्गत कुशवार गांव निवासी कलशिया देवी जंगल के करीब ही अपनी झोपड़ी में रहा करती थी.

जानकारीक के मुताबिक, वह और गांव के अन्य लोग जहां एक तरफ जंगल से आने वाले जानवरों की आवाज सुना करते थे. वहीं, दूसरी तरफ जंगल की ओर गए पालतू जानवरों के मार दिए जाने से भी वाकिफ थे. लेकिन उन्हें इसका आभास नहीं था कि जंगल से निकल कर बाघ उनके गांव तक आ पहुंचेगा और किसी को अपना निशाना बना लेगा. 

असल में महिला कलशिया खुद खाने के लिए मांस पका रही थी कि तभी उस मांस की गंध को सूंघते बाघ वहां आ धमका और महिला पर हमला कर दिया. वह उसे मुंह में दबाए खिंचते हुए जंगल की तरफ ले गया. महिला के चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर लोग उधर दौड़े तो देखा कि बाघ उसे जंगल की ओर ले जा रहा है. लोग जब तक वहां पहुंचते तब तक बाघ उसे अपना निवाला बना कर भाग चुका था.

इस घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल है. बता दें कि जहां घटना घटी है वहां का जंगल बेतला टाइगर रिजर्व के जंगलों से जुड़ा हुआ है. इससे वहां के जानवर प्रायः इस इलाके में आ जाया करते हैं. गौरतलब है कि इन जंगली इलाकों के लोग ऐसे तो अक्सर हांथीयों द्वारा किए जाने वाले हमलों के शिकार बना करते हैं, लेकिन कभी-कभी चीता और बाघ भी इन्हें अपना भोजन बना लेते हैं. 

आपको बता दें कि कुछ महीने गढ़वा जिले के ही डंडई इलाके में एक तेंदुआ घुस आया था. उसने पहले तो कुछ लोगों पर हमला कर उन्हें ज़ख्मी किया, लेकिन कुछ देर बाद हिम्मत कर के लोगों ने उसे घेरा और मार डाला.